पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • केन्द्र में जाटाें को भी ओबीसी का दर्जा मिले

केन्द्र में जाटाें को भी ओबीसी का दर्जा मिले

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भरतपुर| जिला जाट महासभा के प्रतिनिधि मंडल ने अन्य पिछड़ा वर्ग आयोग के सचिव हरी कुमार गोधार से मिल कर राजस्थान राज्य के अनुसार भरतपुर-धौलपुर के जाटों को केन्द्र में ओबीसी का दर्जा दिलाए जाने की मांग की।

प्रतिनिधि मंडल ने मेयर शिव सिंह भोंट, डॉ.. शैलेष सिंह, साहब सिंह एडवोकेट, डॉ.. प्रेम सिंह कुंतल, रामवीर सिंह वर्मा, राकेश फौजदार की अगुवाई में राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग से चर्चा की। उन्होंने जिन बिन्दुओं के आधार पर राज्य में आरक्षण प्राप्त हुआ है। उन्हीं बिन्दुओं को केन्द्र सरकार के समक्ष प्रस्तुत कर भरतपुर धौलपुर के जाटों को केन्द्र की ओबीसी की सूची में शामिल कराया जाए। भरतपुर धौलपुर जाट आरक्षण संघर्ष समिति अध्यक्ष रामवीर सिंह वर्मा ने बताया कि सर्वोच्च न्यायालय ने निर्णय दिया है कि जिस जाति को राज्य में आरक्षण प्राप्त है, उसे केन्द्र में भी आरक्षण प्रदान किया जाए। भरतपुर धौलपुर के जाटों को राजस्थान के अन्य जिलो के जाटों की भांति केन्द्र में आरक्षण प्रदान किया जा सकता है। राजस्थान जाट महासभा प्रदेश उपाध्यक्ष साहब सिंह एडवोकेट, प्रदेश महामंत्री राकेश फौजदार ने सरकार से आग्रह किया कि वे राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग की रिपोर्ट को केन्द्र सरकार को भिजवाते हुए भरतपुर धौलपुर के जाटों की अभिशंषा कर कि राजस्थान के अन्य जिलों की भांति इन दोनों जिलों के जाटों को भी केन्द्र मे ओबीसी का दर्जा प्रदान कराएं। प्रतिनिधि मंडल में डॉ.. अशोक सिंह, उप जिला प्रमुख अभय वीर सिंह, गोविंदसिंह भगोर, नोनिहाल डागुर , डॉ.. अमर सिंह, मुकेश उसरानी आदि मौजूद थे।

भरतपुर. जाट महासभा के पदाधिकारी मौजूद अन्य पिछडा वर्ग आयोग सचिव के साथ।

खबरें और भी हैं...