पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • डॉ. किरोड़ी मीणा ने राज्यसभा में उठाई चंबल से 13 जिलों को पानी देने की मांग

डॉ. किरोड़ी मीणा ने राज्यसभा में उठाई चंबल से 13 जिलों को पानी देने की मांग

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
राज्यसभा सांसद डॉ.किरोड़ी लाल मीणा ने राज्य के 13 जिलों में नहर और पाइप लाइन के जरिए चंबल का पानी दिए जाने का मुद्दा उठाया है। राज्यसभा में सोमवार को मीणा ने 37 हजार करोड़ रुपए की ईस्ट कैनाल परियोजना को तुरंत लागू कर राज्य के अलवर, भरतपुर, धौलपुर, करौली, सवाई माधोपुर, दौसा, जयपुर, अजमेर, टोंक, बूंदी, बारां और झालावाड़ जिलों में पेयजल और सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराने की बात कही।

उन्होंने बताया कि इस परियोजना में चंबल के साथ कालीसिंध, पार्वती, बनास, मेज और कुन्नू नदियों का पानी आएगा। मीणा ने इस परियोजना के प्रथम चरण में वंचित रहे दौसा, करौली और सवाई माधोपुर जिले के विभिन्न इलाकों को शामिल किए जाने का मामला उठाया। वहीं द्वितीय और तृतीय चरण में अलवर, जयपुर और टोंक जिलों के महत्वपूर्ण बांधों को शामिल किए जाने की मांग की। मीणा ने ईस्ट कैनाल परियोजना को राष्ट्रीय परियोजना घाेषित कर विशेष प्राथमिकता दिए जाने की मांग रखी।

भास्कर न्यूज | जयपुर

राज्यसभा सांसद डॉ.किरोड़ी लाल मीणा ने राज्य के 13 जिलों में नहर और पाइप लाइन के जरिए चंबल का पानी दिए जाने का मुद्दा उठाया है। राज्यसभा में सोमवार को मीणा ने 37 हजार करोड़ रुपए की ईस्ट कैनाल परियोजना को तुरंत लागू कर राज्य के अलवर, भरतपुर, धौलपुर, करौली, सवाई माधोपुर, दौसा, जयपुर, अजमेर, टोंक, बूंदी, बारां और झालावाड़ जिलों में पेयजल और सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराने की बात कही।

उन्होंने बताया कि इस परियोजना में चंबल के साथ कालीसिंध, पार्वती, बनास, मेज और कुन्नू नदियों का पानी आएगा। मीणा ने इस परियोजना के प्रथम चरण में वंचित रहे दौसा, करौली और सवाई माधोपुर जिले के विभिन्न इलाकों को शामिल किए जाने का मामला उठाया। वहीं द्वितीय और तृतीय चरण में अलवर, जयपुर और टोंक जिलों के महत्वपूर्ण बांधों को शामिल किए जाने की मांग की। मीणा ने ईस्ट कैनाल परियोजना को राष्ट्रीय परियोजना घाेषित कर विशेष प्राथमिकता दिए जाने की मांग रखी।

खबरें और भी हैं...