पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • हायर पेंशन को लेकर प्रदर्शन

हायर पेंशन को लेकर प्रदर्शन

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भोपाल|हायर पेंशन, कोशयारी कमेटी की सिफारिशें लागू करने सहित अन्य मांगों को लेकर ईपीएस एम्प्लाइज नेशनल को-ऑर्डिनेशन कमेटी के बैनर तले दिल्ली में राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन किया गया। जंतर- मंतर पर किए गए प्रदर्शन में राजधानी समेत प्रदेश के कई जिलों से गए उपक्रमों, निगम- मंडलों के कर्मचारी व पेंशनर्स शामिल हुए। प्रदर्शनकारियों ने मांगों को लेकर नारेबाजी की। सभा भी हुई, राष्ट्रीय पदाधिकारियों बीआर डोंगरे, अजय श्रीवास्तव, अनिल वाजपेयी, रमेश राठौर, श्यामसुंदर शर्मा समेत कई पदाधिकारियों ने संबोधित किया।

हज के लिए 93 यात्री जेद्दा रवाना

भोपाल| राजा भोज विमानतल से मंगलवार को हज यात्रा की आखिरी फ्लाइट शाम 5.45 बजे 93 यात्रियों को लेकर जेद्दा के लिए रवाना हुई। मुकद्दस सफर पर जाने वालों में 43 महिलाएं व 50 पुरुष हैं। इस फ्लाइट में भोपाल के केवल 5 लोग बाकी अन्य स्थानों के यात्री सवार हुए। इनमें 72 वर्षीय शरीफन बी व 23 वर्षीय मो. रकीब व सुबुर भी शामिल हैं।

धर्म, समाज व संस्थाओं की खबरें 9200001174 पर वॉट्सएप भी कर सकते हैं

महिलाओं ने बच्चों के साथ बिताया दिन

देव सोशल एंड वेलफेयर सोसायटी के सदस्यों ने ईदगाह हिल्स स्थित श्रवण वाधित स्कूल के दिव्यांग और विशेष योग्यता वाले बच्चों के साथ दिन बिताया। सोसायटी की सचिव रितु महेश्वरी ने बताया कि बच्चों को खाद्य सामग्री व स्टेशनरी आदि का वितरण किया गया। बच्चे संस्था के सदस्यों का स्नेह पाकर खुश थे। इस मौके पर अध्यक्ष गोपाल बंग, देव बंग, राखी भार्गव, अर्चना व निमिषा आदि मौजूद थीं।

मूर्तिकार संघ ने ज्ञापन सौंपा

भोपाल| प्रजापति मूर्तिकार संघ मप्र ने संरक्षक प्रमोद नेमा व अध्यक्ष तुलसीराम प्रजापति की अगुवाई में कलेक्टोरेट में एडीएम संतोष वर्मा को ज्ञापन सौंपा। संघ ने मूर्तियां बनाने मिट्टी उपलब्ध कराने, मूर्ति निर्माण का प्रशिक्षण, बैंक ऋण व मूर्ति बनाने जगह आवंटन व प्रशासन द्वारा उनके खिलाफ की जाने वाली कार्रवाई रोकने की मांग की है।

भारतीय संस्कृति अध्यात्म की है, आतंकवाद की नहीं : आचार्यश्री

भोपाल |भारतीय संस्कृति आस्थावादियों को पैदा करने की है, यह अध्यात्म से जुड़ी है, आतंकवाद से इसका कोई लेना-देना नहीं है। समस्त श्रमण और वैदिक संस्कृति के लोगों के आस्था के केन्द्र मंदिरों को देखकर श्रद्धा से शीश झुक जाते हैं। वे यह नहीं देखते कि यह मन्दिर, मस्जिद, गुरुद्वारा या चर्च है । यही कारण है कि यहां सर्वधर्म के लोग रह रहे हैं, परन्तु कुछ कट्टरपंथी ताकतें हमारी संस्कृति पर कुठाराघात कर रही हैं। यह विचार आचार्य निर्भय सागर महाराज ने शाहपुरा जैन मंदिर में प्रवचन में व्यक्त किए।

महिला उत्पीड़न पर कार्यशाला

भोपाल |बीयू में मंगलवार को समाजशास्त्र विभाग के सभागार में कार्यस्थल पर होने वाला लैंगिक उत्पीड़न एवं महिला अधिकार विषय पर कार्यशाला का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि कुलपति प्रो. डीसी गुप्ता थे। अध्यक्षता पूर्व कुलपति डॉ. निशा दुबे ने की। वक्ता के रूप में प्रो. नीरजा शर्मा एवं समाजसेवी प्रार्थना मिश्रा उपस्थित थीं।

खबरें और भी हैं...