पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • एसडीएम कोर्ट में नहीं पहुंचे बेटे तो जारी होगा गिरफ्तारी वारंट

एसडीएम कोर्ट में नहीं पहुंचे बेटे तो जारी होगा गिरफ्तारी वारंट

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
66 साल की बुजुर्ग मां श्यामा देवांगन ने प्रॉपर्टी में हिस्सा नहीं मिलने पर गोविंदपुरा एसडीएम कोर्ट में केस दायर किया है। मां की पीड़ा को देखते हुए सुनवाई शुरू की गई है। बुजुर्ग मां एमपी नगर के एक होटल में रह रही हैं। यहीं से वह अपने हक की लड़ाई लड़ रही है। कोर्ट ने दोनों बेटो को नोटिस जारी कर बुधवार दोपहर तक एसडीएम कोर्ट में उपस्थित होने के लिए कहा गया है। वरना गिरफ्तारी वारंट जारी किया जाएगा। एलआईजी ए सेक्टर सोनागिरी निवासी 66 वर्षीय श्यामा के पति जीएस देवांगन भेल में फोरमेन थे। वर्ष-1999 में हो उनकी मौत चुकी है। महिला के तीन बेटे हैं, जिनमें जोन-1 एमपी नगर निवासी दीपक देवांगन चार्टर्ड अकाउंटेंट है। दूसरा बेटा अरुण देवांगन एमआईजी-265, अरविंद विहार में रहता है। वह भेल में डीजीएम के पद पर पदस्थ है। तीसरा बेटा प्रकाश बेंगलुरु में रहता है। श्यामा का कहना है कि तीनों बेटों के पास पर्याप्त दौलत है। फिर भी बुढ़ापे में मुझे नहीं रख रहे हैं। बार-बार कहने के बाद भी वे मुझे प्रॉपर्टी में हिस्सा नहीं दे रहे हैं।

एक बेटा भेल में डीजीएम, दूसरा सीए, फिर भी होटल में रहने को मजबूर बुजुर्ग मां न्याय के लिए पहुंची कोर्ट

बेटा बोला-हम मां को रखने को तैयार, रिश्तेदार भड़का रहे

डीजीएम बेटे का तर्क- भरण पोषण समस्या का हल नहीं

अरुण का कहना है कि 15 साल से मां उन्हीं के पास थीं। परिवारिक कारण से वो अलग रहने लगी हैं। हम लोग भी चाहते हैं कि मां जो चाहती हैं, वो उसे दे दंे। लेकिन वे रिश्तेदारों के बहकावे में आकर एसडीएम दफ्तर गई हैं। क्या भरण पोषण से बुढ़ापे में होने वाली दिक्कत दूर हो जाएंगी। मैं एसडीएम से मांग करूंगा कि मां की अच्छी तरह से काउंसलिंग कराई जाए।

इधर मां का आरोप...बहू ने रख लिए सोने-चांदी के जेवरात

श्यामा का आरोप है कि अरुण और उसकी प|ी युगांक्षी ने दस तौले सोने के जेवर और आधा किलो चांदी अपने पास रख ली। इसके बाद उन्हें घर से बेदखल कर दिया। एसडीएम गोविंदपुरा मुकुल गुप्ता का कहना है कि केस दर्ज कर भरण पोषण अधिनियम के तहत सुनवाई शुरू कर दी है। दोनों बेटों को नोटिस देकर तलब किया गया है।

खबरें और भी हैं...