पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • तीन साल से नहीं हुई परामर्शदात्री समिति की बैठक, सौंपा ज्ञापन

तीन साल से नहीं हुई परामर्शदात्री समिति की बैठक, सौंपा ज्ञापन

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बिलासपुर | कर्मचारियों ने कलेक्टर से परामर्शदात्री समिति की बैठक आयोजित करने की मांग की। मंगलवार को छत्तीसगढ़ अधिकारी-कर्मचारी फेडरेशन का प्रतिनिधि मंडल कलेक्टर पी दयानंद से मिला। उन्होंने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा, जिसमें बताया कि चार स्तरीय वेतनमान और सातवें वेतनमान की एरियर्स राशि भुगतान किए जाने संबंधी वादा पूरा करने के लिए वे मुख्यमंत्री का आभार मानते हैं। वहीं अन्य मांगों को पूरा करने के लिए ज्ञापन दिया गया है। कर्मचारियों के प्रतिनिधि मंडल ने कलेक्टर से कहा कि पिछले तीन वर्षों से परामर्शदात्री समिति की बैठक नहीं हुई। इस वजह से कर्मचारियों की समस्या पर कोई चर्चा नहीं हो पा रही है। इससे निराकरण भी नहीं हो रहा है। कलेक्टर ने कहा कि 15 दिनों के अंदर यह बैठक रखी जाएगी। उन्होंने अतिरिक्त कलेक्टर बीएस उइके को बैठक का आयोजन करने कहा। ज्ञापन सौंपने वालों में डाॅ.बीपी सोनी, जीआर चंद्रा, राजेंद्र दवे, राजेश पांडेय, आलोक परांजपे, ओंकार प्रसाद, किशोर शर्मा, शिवानंद झा, आरसी ध्रुव, अश्वनी पांडे, विरेंद्र सिंह जादोन, मनहरण कौशिक शामिल थे।

खबरें और भी हैं...