पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • नहीं होगी बिजली पानी की कमी, बीएसएल ने की तैयारी

नहीं होगी बिजली-पानी की कमी, बीएसएल ने की तैयारी

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
गर्मी के दिनों में सभी जगहों पर पानी और बिजली की खपत बढ़ जाती है। इसलिए हर साल बीएसएल प्रबंधन पानी और बिजली की कटौती करता है। इस साल लोगों को पानी और बिजली के लिए परेशानी ना हो, इसकी तैयारी कर ली गई है। पानी के पाइप लाइन को पहले ही दुरूस्त कर लिया गया है, वहीं बिजली के मेंटेनेंस का काम भी चल रहा है। वहीं पानी की बर्बादी रोकने के लिए प्रबंधन ने लोगों से अपील की है।

गर्मी के दिनों में जरूरत होती है 60 मेगावाट बिजली की

बोकारो शहर में गर्मी में लोड बढ़ने से 60 मेगावाट बिजली खपत होती है। पिकलोड बढ़कर 65 मेगावाट तक हो जाता है। ऐसे में ट्रांसफार्मर, पैलन, अर्थिंग प्वाइंट आदि में गड़बड़ी आने लगती है और बिजली ट्रिप करने गलती है या लोड शेडिंग करना पड़ता है। इस समस्या से निपटने के लिए ट्रांसफार्मरों की मरम्मत, सबस्टेशनों पैनलों को बदलने सहित अर्थिंग प्वाइंटों को चेक किया जा रहा है।

पानी का अनावश्यक

उपयोग न करें
बीएसएल प्रबंधन ने क्वार्टरों में रहने वाले लोगों से अपील की है कि वे अपने आवासीय परिसर के वैसे पेड़ों की डालियों की छंटनी करें, जिनसे बिजली आपूर्ति बाधित होती है। इससे पहले बिजली सबस्टेशन में सूचना भी दें, ताकि उस दौरान बिजली बंद रखी जाए। साथ ही अपील की है कि पानी का अनावश्यक उपयोग न करें। पानी का इस्तेमाल यथासंभव बाल्टी से करें, टैंक में फ्लोट वाल्व अवश्य लगाएं, रिसाव रोकें, पौधों को उतना ही पटाएं जितना पानी उपलब्ध हो। व्यर्थ बहते पानी की सूचना अनुरक्षण केन्द्र पर दें।

शहर में एक टाइम पानी की आपूर्ति जारी रहेगी : सिंह
टाउनशिप वाटर सप्लाई के एजीएम एके सिंह के अनुसार झारखंड की नदियों और भूगर्भ में पानी लगातार कम हो रहा है। लेकिन, बीएसएल ने तैयारी कर ली है। गर्मी में भी शहर वासियों को पानी की किल्लत नहीं होगी। हर दिन जैसे एक टाइम जलापूर्ति होती है वह जारी रहेगी।

खबरें और भी हैं...