पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • जिले में नौ और पीएचसी को मिला आदर्श का दर्जा, स्वीकृत स्टाफ की नियुक्ति, मिलेंगे फायदे

जिले में नौ और पीएचसी को मिला आदर्श का दर्जा, स्वीकृत स्टाफ की नियुक्ति, मिलेंगे फायदे

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिले में अब कुल 24 पीएचसी आदर्श पीएचसी होंगी। शनिवार को नौ पीएचसी को भी आदर्श पीएचसी का दर्जा मिल जाएगा। आदर्श पीएचसी पर सुविधाओं का विस्तार होने से लाखों ग्रामीणों को सीधा फायदा मिलेगा।

एसीएमएचओ डॉ. सुनील जांदू ने बताया कि आदर्श पीएचसी योजना के तहत द्वितीय चरण में जिले को एक साथ नौ और आदर्श पीएचसी की सौगात मिलने जा रही है। विश्व स्वास्थ्य दिवस पर शनिवार को ग्रामीण क्षेत्रों की इन 9 आदर्श पीएचसी का लोकार्पण होगा। खंड चूरू के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जसरासर, सोमासी, रतनगढ़ खंड के खुडेरा, राजगढ़ खंड के रामपुराबेरी, ददरेवा, सरदारशहर खंड के जैतासर, आसलसर, सुजानगढ़ खंड के भीमसर, खुडी स्वास्थ्य केंद्र को आदर्श पीएचसी के रूप में विकसित किया गया है। जिले के विधायक व पंचायतीराज जनप्रतिनिधि समारोह पूर्वक कार्यक्रम में लोकार्पण करेंगे।

कुल 24 हुई आदर्श पीएचसी : जिले में आदर्श पीएचसी योजना के प्रथम चरण में 15 अगस्त 2016 से सात पीएचसी व द्वितीय अ चरण में 11 जुलाई 2017 से और 8 पीएचसी को आदर्श पीएचसी के रूप में सफलता पूर्वक संचालित किया जा रहा है। योजना के द्वितीय बचरण के उद्घाटन के साथ जिले में अब कुल 24 पीएचसी आदर्श पीएचसी बन जाएंगी। पीएचसी खुडेरा में देवस्थान मंत्री राजकुमार रिणवा, पीएचसी रामपुराबेरी में समाज कल्याण बोर्ड चेयरमैन कमला कस्वा व पीएचसी ददेरवा में तारानगर विधायक जयनारायण पूनिया इसका उद्घाटन करेंगे।

जसरासर पीएचसी

निशुल्क दवाएं, जांच व अन्य योजनाओं का मिलेगा लाभ
डॉ. जांदू ने बताया कि इन आदर्श पीएचसी पर करीब सभी स्वीकृत स्टाफ की नियुक्ति की जा चुकी है। यहां आमजन को उच्च हाइजनिक वातावरण में कठोर मानदंडों के आधार पर गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवा, निशुल्क दवाएं, जांच व अन्य योजनाओं का लाभ मिलेगा। आईईसी समन्वयक मालकोश आचार्य ने बताया कि आदर्श पीएचसी में प्रवेश द्वार से लेकर चिकित्सक परामर्श कक्ष, दवा वितरण केंद्र, जांच कक्ष, टीकाकरण कक्ष, भर्ती वार्ड, टॉयलेट्स, वॉशवेसन, बिजली व साफ-सफाई सहित सभी केंद्रों में एक जैसा रंग व एक जैसी आईईसी आदि व्यवस्था की गई है। इसके लिए आवश्यक सिविल कार्य भी करवाए गए हैं।

खबरें और भी हैं...