पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • नई दिल्ली से आए अधिकारी ने महिला बाल विकास की समीक्षा कर दिए निर्देश

नई दिल्ली से आए अधिकारी ने महिला बाल विकास की समीक्षा कर दिए निर्देश

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भारत सरकार नई दिल्ली से वीसी चौधरी का दमोह आगमन हुआ। भारत सरकार के निर्देशानुसार श्री चौधरी द्वारा महिला एवं बाल विकास के जिला कार्यक्रम अधिकारी, सहायक संचालक, समस्त बाल विकास परियोजना अधिकारियों एवं दमोह जिले की महिला एवं बाल विकास की समस्त पर्यवेक्षकों की समीक्षा बैठक कलेक्टर सभाकक्ष में आयोजित की गई। श्री चौधरी द्वारा प्रधानमंत्री मातृ वंदना के अद्यतन एवं नवीन दिशा निर्देशों के संबंध में सभी उपस्थितों को पीपीटी प्रदर्शन के माध्यम से अवगत कराया गया। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के सुचारू क्रियान्वयन के संबंध में आने वाली कठिनाइयों एवं आॅनलाइन दर्ज होने वाले आवेदनों में प्राप्त होने वाली समस्याओं की सभी से जानकारी प्राप्त कर उनका समाधान किया गया।

परियोजना अधिकारी दमोह ग्रामीण द्वारा अवगत कराया गया कि आवेदन के साथ हितग्राही का आधार नंबर न होने से आॅनलाइन आवेदन सबमिट नहीं होता है। इस पर जानकारी प्रदान की गई कि हितग्राही का आधार न होने की स्थिति में आॅनलाइन नो का आॅप्शन सिलेक्ट करें। इसके बाद आधार के स्थान पर पहचान के लिए अन्य दस्तावेज का आॅप्शन खुलता है जिसमें बैंक पासबुक, वोटर आईडी कार्ड, राशन कार्ड, किसान फोटो पासबुक, पासबुक, ड्राइविंग लायसेंस, पेनकार्ड, पासपोर्ट जाबकार्ड, फोटो आईडी कार्ड, राजपत्रित अधिकारी से अभिप्रमाणित फोटो परिचय पत्र आदि भी संलग्न किए जा सकते हैं। बैठक में सभी उपस्थितों की जिज्ञासाओं का समाधान करते हुए श्री चौधरी द्वारा योजना के संचालन में अथवा आवेदनों को इंद्राज करने में किसी भी प्रकार की असुविधा होने पर उनसे सीधे संपर्क करने की बात कही गई।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना 1 जनवरी 2017 से प्रभावशील है जिसमें 1 अप्रेल 2016 अथवा उसके बाद एलएमपी वाली माताएं इसके लिए पात्र हैं लेकिन उनका प्रसव 1 जनवरी 2017 को अथवा उसके बाद हुआ हो, दमोह जिले में योजना प्रारंभ से बैठक दिनांक तक कुल 10238 हितग्राहियों के आवेदन आॅनलाइन दर्ज किए जा चुके हैं जिनमें 7777 को प्रथम किस्त की, 7784 को द्वितीय किस्त की व 1734 को तृतीय किस्त की राशि का भुगतान संबंधितों को सीधे उनके बैंक खातों के माध्यम से किया जा चुका है।

खबरें और भी हैं...