पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • पीएम की सभा में लाभार्थियों को जयपुर ले जाने में लाखों रुपए खर्च

पीएम की सभा में लाभार्थियों को जयपुर ले जाने में लाखों रुपए खर्च

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा में जयपुर जाने के लिए लाभार्थियों को लाने व ले जाने में प्रशासन ने लाखों रुपए फूंक दिए। इसमें जिले के 6 हजार 500 लाभार्थियों को ले जाने के लिए 166 बसें लगाई गई। इन बसों को 20 रुपए किमी के हिसाब से भुगतान किया जाएगा। परिवहन विभाग को 4.86 लाख रुपए का बजट मिला। विभाग ने 63 बसों को भुगतान के लिए और बजट मांगा है।

इन लाभार्थियों को जाते समय भोजन व लौटते समय नाश्ते के पैकेट भी दिए। जिस पर करीब 10 लाख रुपए खर्च होने का अनुमान है। लाभार्थियों को बसों में बैठाकर जयपुर भेजने व वापस लाने के लिए बाकायदा अधिकारियों को 20 20 बसों की व्यवस्था का जिम्मा सौंपा गया। जिला स्तरीय अधिकारी से लेकर कर्मचारी तक पूरा सरकारी अमला छुट्टी के दिन भी सुबह से शाम तक जुटे रहे।

भरतपुर व धौलपुर से आई 175 बसें
भरतपुर व धौलपुर से करीब 175 बसें भी दौसा पहुंची। इन बसों से आए 10 हजार लाभार्थियों को गिरिराज धरण मंदिर पर नहाने धोने व खाने के इंतजाम किए गए। जाते वक्त भोजन कराया गया तथा लौटते वक्त नाश्ते के पैकेट दिए। करीब दो दर्जन हलवाई इस काम में जुटे। इन लाभार्थियों के खाने व ठहरने की व्यवस्था भी दौसा जिला प्रशासन की ओर से की गई।

बसें नहीं चलने से यात्री परेशान
जिले की 166 निजी बसों को जयपुर भेजा गया। ये सभी बसें प्राइवेट रूटों की होने के कारण एक दर्जन रूटों के सैकड़ों गांवों व कस्बों के हजारों यात्री परेशान रहे। लोगों को जीप जुगाड़ व ट्रैक्टरों में लटककर पहुंचना पड़ा। दौसा गंगापुर, दौसा लालसोट, बौंली, बांदीकुई, बालाजी, दौसा पापड़दा, खवारावजी, दौसा लालसोट, दौसा पीलवा, दौसा कुंडल, बांदीकुई आदि रूटों पर निजी बसें नहीं चली।

4.86 लाख रुपए का बजट मिला है
प्रधानमंत्री की सभा में लाभार्थियों को ले जाने के लिए 20 रुपए प्रति किमी के हिसाब से भुगतान किया जाएगा। इसके लिए 4.86 लाख रुपए का बजट मिला है। 63 बसों के लिए बजट की और मांग की है।

-जगदीश प्रसाद बैरवा, आरटीओ

खबरें और भी हैं...