Hindi News »Chandigarh Zilla »Mohali »Dera Bassi» मजदूर कॉलोनी में लगी आग, 36 परिवार हुए बेघर

मजदूर कॉलोनी में लगी आग, 36 परिवार हुए बेघर

लालडू| अंबाला-चंडीगढ़ हाईवे पर लालडू बिजली ग्रिड के पीछे बनी मजदूर परिवारों की झोपड़पट्टी में मंगलवार दोपहर अचानक...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 02, 2018, 02:00 AM IST

मजदूर कॉलोनी में लगी आग, 36 परिवार हुए बेघर
लालडू| अंबाला-चंडीगढ़ हाईवे पर लालडू बिजली ग्रिड के पीछे बनी मजदूर परिवारों की झोपड़पट्टी में मंगलवार दोपहर अचानक आग लग गई। इस आग में तीन दर्जन से अधिक मजदूर परिवार बेघर हो गए। इन परिवारों का लाखों रुपए का घरेलू सामान जलकर खाक हो गया। वहीं, ये परिवार आसमान तले रात बिताने को मजबूर हैं।

मजदूर दिवस पर हुए इस हादसे के बावजूद कोई प्रशासनिक अधिकारी व सियासी दल का नेता इन परिवारों की सुध लेने नहीं पहुंचा। डेराबस्सी व दप्पर स्टील स्ट्रिप्स की 7 दमकल गाड़ियों ने एक घंटे बाद आग पर काबू पाया। गनीमत यह रही कि आग में कोई हताहत नहीं हुआ है। आग का कारण पता नहीं चल सका है। पीडि़तों ने बताया कि झुग्गियों में रखा राशन, गेहूं, कपड़े, लोहे के फोल्डिंग बेड, साइकल, रेहड़ी व अन्य घरेलू सामान सहित नकदी भी आग की भेंट चढ़ गई। जानकारी के मुताबिक ग्रिड के पीछे बीते करीब डेढ़ दशक से 150 से अधिक झुग्गियां मौजूद हैं। जिनमें प्रवासी श्रमिकों के परिवार ही रहते हैं। दोपहर करीब दो बजे आग लगी, जिससे तमाम झोपड़पट्टी में हाहाकार मच गया। एक-दूसरे से सटी इन झुग्गियों के कारण फूस व तिरपाल युक्त छतों से होकर आग ने आसपास झुग्गियों को भी अपनी चपेट में ले लिया। तुरंत पुलिस व फायरब्रिगेड को सूचित किया गया। आग की चपेट मे आने से रजिन्द्र, राजेश, नरेश, रामबाबू, नानू, ओमकार, खलील, कालू, लाल मोहम्मद, शेर मोहम्मद, गुलाब मोहम्मद, सुबोद, पारस, नन्ने, हरकेश, धर्मबीर, रामबाबू, दिनेश सहित 3 दर्जन लोगों की झुग्गियां पूरी तरह से जल कर राख हो गई हैं। फायर ब्रिगेड डेराबस्सी के मौके पर पहुंचे अधिकारी बलजीत सिंह व राजीव ने बताया कि तंग जगह होने के कारण उन्हे आग पर काबू पाने में काफी मशक्कत करनी पड़ी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dera bassi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×