--Advertisement--

एटीएस के ‘लाइफस्टाइल’ प्रोजेक्ट से बाशिंदों का लाइफस्टाल बिगड़ा

रेजिडेंट्स ने एसडीएम परमजीत सिंह को सौंपी शिकायत। सिटी रिपोर्टर | डेराबस्सी डेराबस्सी के सबसे हाईफाई एटीएस...

Dainik Bhaskar

Jun 28, 2018, 02:00 AM IST
एटीएस के ‘लाइफस्टाइल’ प्रोजेक्ट से बाशिंदों का लाइफस्टाल बिगड़ा
रेजिडेंट्स ने एसडीएम परमजीत सिंह को सौंपी शिकायत।

सिटी रिपोर्टर | डेराबस्सी

डेराबस्सी के सबसे हाईफाई एटीएस अपार्टमेंट्स के लाइफ स्टाइल प्रोजेक्ट में नागरिक सुविधाओं को लेकर बाशिंदों का लाइफ स्टाइल काफी आहत है। बार-बार एटीएस की केयरटेकर मैनेजमेंट सहित नगर प्रशासन को दी गई शिकायतों के बावजूद कोई सुधार देखने को नहीं मिल रहा। इससे तंग आकर यहां के बाशिंदों ने डेराबस्सी के एसडीएम परमजीत सिंह को शिकायत सौंपकर जल्द से जल्द समस्याओं से राहत दिलाने की मांग की है।

19 मंजिला लाइफ स्टाइल प्रोजेक्ट के चार टावर्स में करीब डेढ़ सौ परिवार रह रहे हैं। इनमें ज्यादातर सेना के रिटायर्ड अधिकारी हैं। कई ऐसे भी हैं, जिन्हें पजेशन लिए हुए डेढ़ साल से अधिक हो गए हैं, परंतु बाशिंदों का कहना है कि पजेशन के समय प्रोजेक्ट प्रबंधकों द्वारा किए गए वायदे आज तक पूरे नहीं किए गए। एडवोकेट ज्ञान सिंह बहमनी, रिटायर्ड मेजर जनरल जीएस औलख, एमएस छाबड़ा, ब्रिगेडियर नरेश कुमार, प्रितपाल मोदी, अवनीश त्यागी, मनजीत छाबड़ा, शशि लांबा आदि ने बताया कि प्रोजेक्ट के लिए आज तक हाईवे से मेन अप्रोच रोड का बंदोबस्त नहीं हुआ। उन्हें आज भी एक मोहल्ले की 23.9 फीट तंग गली से गुजरना पड़ता है, जबकि मास्टर प्लान में 80 फीट रोड का प्रावधान है। इस गली में कई दुकानों व मकानों से रैंप कई फीट तक गली में निकाल लिए हैं, जबकि कई लोग रास्ते में अपने वाहन पार्क कर लेते हैं, जिससे यह गली कई बार 12 फीट चौड़ी भी नहीं रहती। गली चौड़ी करने की गुंजाइश भी कम है, क्योंकि खाली जगह पर भी पांच फीट तक चारदीवारी कर ली गई है। नगर परिषद का सीवर व बरसाती पानी इस गली में अकसर ओवरफ्लो रहता है, जिससे असहनीय बदबू फैलती है व माहौल असुखद बनता है। इस मेन अप्रोच में स्ट्रीट लाइट्स भी नहीं हैं। इसके अलावा आसपास उद्योगों से पास के नाले में जल प्रदूषण फैला हुआ है।


एटीएस प्रोजेक्ट के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर रिटायर्ड राठी ने बताया कि वे बाशिंदों की शिकायतों से सहमत हैं। वे मास्टर प्लान के मुताबिक मेन अप्रोच रोड को 80 फीट चौड़ा करने के लिए नगर परिषद को बार बार लिख चुके हैं। नगर परिषद इस गली का मौजूदा स्टेटस बनाए रखने का प्रस्ताव पास करने के हक में है, जिस बारे में सीटीपी को शिकायत की गई। सीटीपी के अनुसार नगर परिषद किसी भी सूरत में मास्टर प्लान की हिदायतों को ओवररूल नहीं कर सकती। इस बारे में जल्द ही सख्त निर्देश जारी किए जाएंगे। उधर, एसडीएम परमजीत सिंह ने कहा कि बाशिंदों की समस्याओं के समाधान के लिए एटीएस प्रबंधकों सहित नगर परिषद को लिखा जा चुका है। जल्द ही कार्रवाई कर समाधान किया जाएगा।

X
एटीएस के ‘लाइफस्टाइल’ प्रोजेक्ट से बाशिंदों का लाइफस्टाल बिगड़ा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..