Hindi News »Chandigarh Zilla »Mohali »Dera Bassi» हमले में बाइक सवार गंभीर रूप से जख्मी, बाप बेटे ने किया रॉड से हमला

हमले में बाइक सवार गंभीर रूप से जख्मी, बाप बेटे ने किया रॉड से हमला

डेराबस्सी मकंदपुर रोड पर सोमवार की रात खेड़ी जट्टां का एक लड़का हमले में बुरी तरह से जख्मी हो गया है। जख्मी जगजीवन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 27, 2018, 02:00 AM IST

हमले में बाइक सवार गंभीर रूप से जख्मी, बाप बेटे ने किया रॉड से हमला
डेराबस्सी मकंदपुर रोड पर सोमवार की रात खेड़ी जट्टां का एक लड़का हमले में बुरी तरह से जख्मी हो गया है। जख्मी जगजीवन सिंह को डेराबस्सी के सिविल हॉस्पिटल से जीएमसीएच, चंडीगढ़ शिफ्ट किया गया है। जख्मी पीड़िने ने गांव के ही बाप-बेटे पर उसके उपर रॉड से हमला कर घायल करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने बयान दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

हॉस्पिटल में भर्ती जगजीवन सिंह पुत्र गुरमेल सिंह ने पुलिस में दिए बयान में आरोप लगाया है कि वह डेराबस्सी से बाइक पर घर लौट रहा था। करीब सवा आठ बजे उसे रास्ते में रोककर बाइक पर सवार खेड़ी जट्टां के भजन सिंह व उसके बेटे सिमरन ने रॉड से हमला कर दिया। उसके मुंह, पीठ व टांगों पर चोट आईं हैं। जगजीवन ने आरोप लगाया है कि हमलावर पिता के खिलाफ गांव के निरमैल सिंह ने विदेश भेजने के नाम पर कबूतरबाजी की शिकायत दी हुई है। शिकायतकर्ता का साथ देने के कारण हमलावर बाप-बेटे उससे रंजिश रखने लगे और हमला इसी से प्रेरित था। इस बारे में लालडू़ पुलिस के जांच अधिकारी मोहम्मद इकबाल ने कहा कि कबूतरबाजी की शिकायत की जांच अभी पूरी नहीं हुई है।

उधर, भजन सिंह ने आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि जगजीवन के खिलाफ शामलाट जमीन पर मकान बनाने और धर्मशाला के सामने जमीन पर कब्जा करने के संबंध में सरकार को जांच सौंप दी गई है। इसी रंजिश में वह उन पर दवाब बनाने के लिए एेसे आरोप लगा रहा है। वहीं, डेराबस्सी पुलिस के एएसआई हरजीत सिंह के अनुसार हमले में बाप-बेटे का नाम लिखाया गया है। परंतु, जांच में सामने आ रहा है कि भजन सिंह व उसका बेटा हमले के समय गांव में ही मौजूद थे।

सिविल हॉस्पिटल में दाखिल हमले का शिकार जख्मी जगजीवन सिंह।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dera bassi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×