• Home
  • Chandigarh Zilla
  • Mohali
  • Dera Bassi
  • डेराबस्सी में रेलवे अंडरपास हुए बारिश के पानी से लबालब, आवाजाही ठप
--Advertisement--

डेराबस्सी में रेलवे अंडरपास हुए बारिश के पानी से लबालब, आवाजाही ठप

लोगों की सुविधा के लिए अंबाला कालका रेलमार्ग पर बनाए गए अंडरपाथ असुविधा ज्यादा साबित हो रहे हैं। हर बार मामूली...

Danik Bhaskar | Jul 04, 2018, 03:25 AM IST
लोगों की सुविधा के लिए अंबाला कालका रेलमार्ग पर बनाए गए अंडरपाथ असुविधा ज्यादा साबित हो रहे हैं। हर बार मामूली बारिश के दौरान न केवल इन अंडरपाथों पर पानी भरने से वाहनों की आवाजाही ठप हो जाती है, बल्कि पानी से गुजरते हुए लोगों को जान भी जोखिम में डालनी पड़ती है। इतना ही नहीं, प्रशासन की ओर से कोई मदद न मिलने पर अंडरपाथ में जमा पानी बाहर पंप आउट करने की कसरत भी यहां के ग्रामीणों को करनी पड़ती है। मंगलवार भी इस रेलमार्ग के बक्करपुर, जनेतपुर, गाजीपुर समेत सारे अंडरपाथ पानी से लबालब हो गए। जनेतपुर में एक स्कूल बस पानी में फंसकर बंद हो गई जबकि मुबारिकपुर में डबल लेन अंडरपास के अधूरे निर्माण को लेकर लोगों में रोष पाया जा रहा है।

डेराबस्सी में जनेतपुर रेलवे अंडरब्रिज के पानी में फंसकर खराब हुई स्कूल बस

डिवीजनल इंजीनियर बजरंग ने बताया कि इसे मेनटेन करने की स्थानीय सरकारों की जिम्मेदारी होती है। उनका काम निकासी सुविधा के साथ इनका निर्माण करना था, जो कभी का पूरा कर लिया गया है। ड्रेन में पानी के साथ मिट्टी व गाद जम जाने से निकासी चोक हो जाती है जिसे मेनटेन करना नगर प्रशासन का काम है। नगर निकाय अफसर कहते हैं कि रेलवे वालों ने ये अंडरब्रिज उन्हें हैंडओवर ही नहीं किए हैं। डेराबस्सी नगर परिषद के ईओ सुखजिंदर सिंह के अनुसार फिर उनका स्टाफ पानी निकालने के लिए मोटर लेकर पंप आउट करते रहते हैं।

जनेतपुर अंडरपास में किसान की हो चुकी डूबकर मौत...

बता दें कि बीते साल 27 जनवरी को ट्रैक्टर ट्राली के साथ निकल रहे एक किसान की इसी अंडरब्रिज के पानी में डूबने से मौत भी हो गई थी। रेलवे पुलिस ने नगर परिषद प्रधान भूपिंदर सैनी, उपप्रधान एवं जनेतपुर के पार्षद हरजिंदर रंगी, नगर परिषद एवं रेलवे अधिकारियों के खिलाफ आईपीसी 304 ए व 120 बी के तहत केस दर्ज किया था जो अब भी खारिज नहीं हुआ है। रेलवे विभाग द्वारा डेराबस्सी से जीरकपुर तक आधा दर्जन से अधिक रेलवे अंडरपाथ बनाए हैं। इन्हें बनाकर बंद फाटकों पर इंतजार से लोगों को राहत देना था परंतु बारिश के दिनों में ये अंडरपाथ राहत की बजाय बड़ी मुश्किल पैदा करते हैं। दरअसल, निकासी के सही प्रबंध न होने से इन अंडरपाथों में कई कई फीट पानी जमा होने से आवाजाही बंद हो जाती है, वहीं यहां वाहन फंस जाते हैं और हादसे का जोखिम बना रहता है। वहीं, नगर प्रशासन की ओर से पानी निकालने के लिए फायरबिग्रेड आदि की मदद भी समय पर नहीं दी जाती। ग्रामीणों को अपने खर्च पर पंप सेट का प्रबंध करना पड़ा है जिन्हें लगभग हर बारिश के बाद पानी पंप आउट की कसरत करनी पड़ती है।

पानी भरने से स्कूल बसें भी नहीं आ रही...

डेराबस्सी नगर परिषद के वार्ड नंबर 12 के तहत रेलवे लाइन के जनेतपुर व बक्करपुर स्थित अंडरब्रिज में पानी भर गया। इससे आवाजाही ठप हो गई और राहगीरों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। बक्करपुर के कुलदीप सिंह सोनू, लाभ सिंह, साहब सिंह, करम सिंह व सुखजीत सिंह आदि ने बताया कि पानी भरने से लोगों को कई किमी लंबा चक्कर लगाना पड़ रहा है, वहीं स्कूल बसें भी इन गांवों में नहीं आ रही। बच्चों को खुद लाने ले जाने की कसरत करनी पड़ रही है। दो दिन से लोगों को ट्रैक्टरों की सहायता से मोटर के जरिए पाइपों से पानी पंप आउट करना पड़ रहा है। जनेतपुर के पूर्व सरपंच बलबीर बल्ला समेत लोगों ने कहा कि यहां पानी भरने से लोगों को कई किलोमीटर का अतिरिक्त रास्ता तय करना पड़ता है।