पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • धार जिले के मजरे सुल्तानपुर के छह घरों में डकैती, तीन ग्रामीण बदमाशों की गोली से घायल

धार जिले के मजरे सुल्तानपुर के छह घरों में डकैती, तीन ग्रामीण बदमाशों की गोली से घायल

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिले में गांव भोपावर के मजरे सुल्तानपुर में सोमवार रात 11.30 बजे बदमाशों ने 6 घरों में डकैती डाली। बंदूक और फालिए से लेस बदमाशों ने गोलियां चलाकर पहले दहशत फैलाई फिर दरवाजे तोड़कर घरों में घुसे। मारपीट कर ग्रामीणों से 50 हजार से ज्यादा की नकदी व 46 पशु ले गए। इनमें 40 बकरियां, 4 गाय व दो बैल शामिल हैं। फायरिंग में तीन लोग घायल हुए हैं। इनसे से एक की स्थिति गंभीर होने से इंदौर रैफर कर दिया। वहीं एक को सरदारपुर में भर्ती कराया गया। यह गांव सरदारपुर तहसील में आता है। सुल्तानपुर में 40 घरों की बस्ती है। बदमाशों की संख्या 35-40 के आसपास बताई जा रही है। सभी के पास हथियार थे। पुलिस के मुताबिक बदमाशाें ने सबसे पहले चत्तरसिंह पिता बुधिया (50) के 2 मकानों को निशाना बनाया। शेष |पेज 4 पर





पीछे का दरवाजा तोड़कर घर में घुसे, जहां चत्तरसिंह का लड़का सुनील (24), बहन सुनीता (16) और पूजा (12) सोए थे। तीनों को बदमाशों ने बंदूकें अड़ाकर रुपए मांगने लगे। तीनों भाई-बहन घबरा गए और रोने लगे। काफी देर तक कुछ नहीं मिला तो बदमाश घर में बंधी 30 बकरियां ले गए। इसके बाद पास ही बने चत्तरसिंह के दूसरे कच्चे मकान में कुछ बदमाश पीछे का दरवाजा तोड़कर घुसे। बाहर चत्तरसिंह और घर में उसकी प|ी भूरीबाई सोई थी। दोनों से मारपीट करते हुए बदमाशों ने रुपए की मांग की। एक बदमाश ने चत्तरसिंह के सिर पर बंदूक अड़ा दी और पीछे से एक ने गर्दन पर फरसा रख दिया। इस पर भूरीबाई ने डरकर कोठी में रखे 20 हजार रुपए निकालकर दिए। वहीं मजदूरी के 3 हजार रु. साड़ी के पल्लू में बंधे थे, वे भी बदमाशों ने छीन लिए। उसके बाद भी मारपीट करने लगे तो चत्तरसिंह ने विरोध किया। इस पर बदमाशों ने फायर कर दिए। जिसके छर्रे चत्तरसिंह के सीने और पैर में लगे। उसके बाद बाहर बंधी 4 गाय, 2 बैल भी ले गए।

इन घरों में भी बदमाशों ने की वारदात : बदमाश भावसिंह पिता सोहन सिंह के घर पहुंचे। बाहर खटिया पर सोये भावसिंह आहट सुन खड़ा हुआ तो बदमाशों ने फायर कर दिया। गोली सिर को छूते हुए निकल गई। बदमाश शंकर पिता कचरू के घर से एक बकरी, 5 हजार रु. नकद, एक मोबाइल और 500 ग्राम से ज्यादा चांदी के जेवरात ले गए। सरदार पिता खेमा के घर से एक बकरी, बर्तन, 250 ग्राम चांदी के जेवरात ले गए। नरसिंह पिता गंगाराम के घर से बर्तन, एक भैंस ले गए। नरसिंग पिता कचरिया के घर से भी बर्तन ले गए। इन सभी के साथ मारपीट भी की गई। वहीं सरदारपुर में भर्ती मरीज के घर से भी बकरियां व नकदी ले गए।

बदमाशों के हमले में घायल चत्तरसिंह को छर्रे लगने से इंदौर रैफर किया।

खबरें और भी हैं...