पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • कैंसर पीड़िताें का अब अहमदाबाद और इंदौर में होगा उपचार, 11 को किया रैफर

कैंसर पीड़िताें का अब अहमदाबाद और इंदौर में होगा उपचार, 11 को किया रैफर

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिले के डेहरी व आसपास के गांवों के ग्रामीण कैंसर की खतरनाक बीमारी से पीड़ित मिले है। डेहरी में पिछले एक साल में 7 लोगों की मौत होकर 11 पीड़ित अब भी इस बीमारी की चपेट में है। मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव में पहुंची। 11 मरीजों की सूची बनाई। जिनका उपचार अब अहमदाबाद और इंदौर में होगा। मरीजों को अच्छे उपचा के लिए हाथों हाथ रैफर भी कर दिया। जहां उनका ऑपरेशन व इलाज होगा।

प्रभारी सीएमएचओ डॉ. जयपालसिंह ठाकुर ने बताया टीम ने डेहरी की झमुबाई पति मांगतिया (55) को ब्रेस्ट में कैंसर होने पर अहमदाबाद रैफर किया। साथ ही मंजुबाई पति खेमा (56), शेहनाज पति जमालुद्दीन (45) को ऑपरेशन के लिए रैफर किया। निरूपाबाई पति गोपाल (57), सुनीता पति श्याम (56), लीलाबाई पति जगदीश (50), मनीष पति राजू (40) को ब्रेस्ट में कैंसर होने पर अहमदाबाद रैफर किया है। पायल किर्ती (40) को सिर में, रेशमा पति अफजल (30) को बच्चादानी में कैंसर होने पर गीता भवन इंदौर उपचार के लिए रैफर किया। पप्पू बी पति जमालुद्दीन (60) को पेट और दिलावर अब्दुल बाबा (70) को लीवर में कैंसर होने पर अहमदाबाद रैफर किया। डेहरी, लौंगसरी, बांकी, अंजतार, कोसदाना, अंबापुरा, ब्राह्मणपुरा गांव में भी 10 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 4 लोग बीमारी की चपेट में है। इसमें एक महिला भी ब्रेस्ट कैंसर से पीड़ित है, जबकि पुरुष लीवर और अन्य तरह के कैंसर का शिकार हुए है। जिनका उपचार चल रहा है। डॉक्टरों की टीम इन गांवों में भी पहुंचेगी। इन गांवों में फ्लोराइड़ युक्त पानी से बीमारी फैलने का ग्रामीणों में वहम था। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कहा कैंसर एक असंक्रामक बीमारी है। जो एक से दूसरे में नहीं फैलती। टीम गांवों में इतने मरीजों होने पर कारणों का पता लगा रही है।

धार. स्वास्थ्य विभाग की टीम ने डेहरी में शिविर लगाकर मरीजों काे देखा।

खबरें और भी हैं...