पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • कथा...सनातन धर्म में देवता अनेक हैं लेकिन परमात्मा एक ही है सबमें है है देवता का भाव: केशव गुरु शास्त्री

कथा...सनातन धर्म में देवता अनेक हैं लेकिन परमात्मा एक ही है सबमें है है देवता का भाव: केशव गुरु शास्त्री

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
गंजबासौदा| नौलखी मंदिर पर चल रही शिवपुराण कथा के 11वें दिन पंडित केशव गुरु शास्त्री ने कहा कि सनातन धर्म में देवता अनेक हैं लेकिन परमात्मा एक ही है। श्रद्धानुसार हमारे यहां सबकी मान्यता है। कुत्ता भैरव वाहन, गधा शीतला वाहन, चूहा गणपति वाहन, मोर स्कन्ध वाहन, सर्प शिव श्रृंगार हैं। हमने सब में देवता भाव माना है। इसी प्रकार बाहर से देवता गुण, कर्म अनुसार अलग-अलग रूप धारण किए हैं लेकिन परमात्मा में ही निहित हैं। कथा को आगे बढ़ाते हुए रामेश्वर लिंग की कथा सुनाते हुए कहा कि राम जिनके ईश्वर हैं वही रामेश्वर हैं। राम शिव भिन्न नहीं हैं। साथ ही ज्योर्तिलिंगो के बारे में भी विस्तार से प्रकाश डाला। शिवपुराण कथा के साथ ही मंदिर परिसर में प्रतिदिन भगवान शिवलिंग निर्माण कर विशेष पूजा आराधना के साथ अभिषेक किया जाता है। इसके चलते सुबह से शाम तक मंदिर में श्रद्धालु धर्मलाभ लेने आ रहे हैं।

खबरें और भी हैं...