पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • कोलेबिरा में विपक्ष से कौन चुनाव लड़ेगा, अभी तय नहीं : आरपीएन

कोलेबिरा में विपक्ष से कौन चुनाव लड़ेगा, अभी तय नहीं : आरपीएन

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदेश कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह ने मंगलवार को प्रेस वार्ता में कहा कि कोलेबिरा विधानसभा क्षेत्र से गठबंधन का कौन दल प्रत्याशी देगा, अभी यह तय नहीं है। इस विषय पर झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी, राजद अध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी, झामुमो समेत गठबंधन के अन्य सभी दलों के नेताओं से भी अलग-अलग बात हुई है, पर गठबंधन के नेता अभी किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंच पाए हैं। इस सवाल पर कि झामुमो ने वहां से अपना प्रत्याशी उतारने की घोषणा की है, आरपीएन ने कहा कि यह उनकी मंशा हो सकती है, पर ऐसा निर्णय नहीं हुआ है।

उधर, जेएमएम के केंद्रीय महासचिव सुप्रिया भट्टाचार्य ने कहा कि झामुमो ने घोषणा कर दी है कि वह कोलेबिरा में अपना प्रत्याशी देगा। पार्टी इस घोषणा पर अडिग है। कांग्रेस भवन में हुई प्रेस वार्ता में आरपीएन ने कहा कि पूर्व में फैसला हुआ था कि राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस का प्रत्याशी और सिल्ली-गोमिया विधानसभा क्षेत्र से झामुमो का प्रत्याशी होगा। कोलेबिरा पर अभी फैसला नहीं हुआ है। क्या कांग्रेस वहां से चुनाव लड़ने को इच्छुक है, इस सवाल का आरपीएन ने सीधा जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा कि समय आने पर वे बताएंगे।

प्रेस कांफ्रेंस में आरपीएन सिंह, आलमगीर आलम, डॉ. अजय कुमार व अन्य।

कांग्रेस ने 82 हजार घुसपैठियों को निकाला था

आरपीएन ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने एनआरसी लागू किया था। मनमोहन सिंह ने 480 करोड़ रुपए दिये थे। कांग्रेस ने 82 हजार घुसपैठियों को बाहर निकाला था, जबकि चार साल में मोदी सरकार ने मात्र 1800 घुसपैठियों को ही बाहर निकाला है। आरपीएन ने आरोप लगाया कि राफेल विमान खरीदने में एक लाख तीस हजार करोड़ का ठेका सारे नियम तोड़कर बिना टेंडर रिलायंस को दे दिया गया। चोकसी 34 हजार करोड़ रुपए लेकर भाग गया। उसे सरकार ने क्लीन चिट दे दी, जिससे उसे एंटीगुआ की नागरिकता मिल गई।

प्रवक्ताओं से कहा, सरकार की खामियां पुरजोर ढंग से उठाएं : लक्ष्य-2019 की बैठक में आरपीएन सिंह ने प्रवक्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र और राज्य सरकार की वादाखिलाफी को पुरजोर ढंग से उठाएं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डाॅ. अजय कुमार ने सभी जोनल प्रवक्ताओं को प्रदेश प्रवक्ताओं के संपर्क में रहने और सरकार की नाकामियों को उजागर करने को कहा। मौके राजेश ठाकुर, अशोक चौधरी, केशव महतो कमलेश, राजीव रंजन प्रसाद, डाॅ राजेश गुप्ता, आलोक कुमार दुबे आदि थे।

खबरें और भी हैं...