पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • भाजपा नेताओं की मनमानी से सिलेक्टेड गांव में ही मिला मुआवजा

भाजपा नेताओं की मनमानी से सिलेक्टेड गांव में ही मिला मुआवजा

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सलसलाई | कांग्रेस के जिला महामंत्री शिवनारायण परमार ने भाजपा नेताओं पर आरोप लगाते हुए कहा कि गुलाना तहसील में मात्र 17 गांव के किसानों को मुआवजा मिला है जो गलत है। गुलाना तहसील में 2017 में सबसे कम बारिश गुलाना तहसील में हुई थी और किसानों को मुआवजे के लिए सर्वे भी करवाया गया, लेकिन क्षेत्र में मात्र 17 गांव के अलावा भी ऐसे कई गांव हैं, जिन्हें मुआवजा नहीं मिला। इसको लेकर क्षेत्र की जनता और किसान दोनों ही क्षेत्रीय सत्ताधारी जनप्रतिनिधियों से नाराज है।

कांग्रेस जिला महामंत्री ने परमार ने आरोप लगाया हैं कि सलसलाई, बुड़लाय, बेदार नगर, मोदीपुर, मंगलाज सहित तहसील के लगभग सारे गांव मात्र 17 गांव को छोड़कर एक में भी किसानों को राहत राशि मुआवजा नहीं मिला। भाजपा सरकार ने किसानों के साथ छलावा किया है। गत दिनों नगर सलसलाई में ही किसान संघ द्वारा मुआवजा राशि नहीं मिलने को लेकर धरना आंदोलन किया गया था। इसमें नगर सलसलाई बंद भी रहा। वहीं कलेक्टर के आश्वासन के बाद किसानों ने धरना आंदोलन स्थगित कर दिया गया था, लेकिन जब किसानों को यह पता चला कि गुलाना तहसील के 17 गांव के किसानों को मुआवजा राशि मिल गई है, तो किसान आक्रोशित हो गए हैं। वहीं अल्पसंख्यक विभाग के जिला महामंत्री हुसैन भाई ने कहा कि अगर जल्द ही क्षेत्र के किसानों को मुआवजा राशि वितरित नहीं की गई, तो हम किसान कांग्रेस की तरफ से धरना आंदोलन करेंगे।

खबरें और भी हैं...