पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • रक्षाबंधन के लिए ममेरी बहन को ससुराल से लेकर आ रहे दो सगे भाइयों को ट्रक ने कुचला, मौत

रक्षाबंधन के लिए ममेरी बहन को ससुराल से लेकर आ रहे दो सगे भाइयों को ट्रक ने कुचला, मौत

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ममेरी बहन को ससुराल से लेकर लाैट रहे दो सगे भाइयों को मेहरा टोल नाके के पास तेज रफ्तार ट्रक ने कुचल दिया। दोनों की मौके पर ही मौत हो गई और बहन गंभीर घायल हो गई। उसे इलाज के लिए जेएएच में भर्ती कराया गया है। हादसा मंगलवार शाम आगरा-मुंबई नेशनल हाईवे पर शाम करीब सात बजे हुआ।

गुड़ी-गुढ़ा नाका निवासी जसवंत रजक के बेटे कपिल (21) व राम (19) रक्षाबंधन के लिए अपनी ममेरी बहन किरन को लेने के लिए उसकी ससुराल सेंथरी (भिंड) गए थे। मंगलवार शाम को बाइक पर उसे बैठाकर वह ग्वालियर लौट रहे थे। वह मेहरा टोल नाका से पहले जारगा की ओर से आने वाली सड़क से हाईवे को क्रॉस करते हुए फूटी बैरक वाले मार्ग पर पहुंचे ही थे कि शिवपुरी से मुरैना की ओर जा रहे ट्रक यूपी 75 एम 6089 ने बाइक को टक्कर मार दी। तेज रफ्तार ट्रक के अगले हिस्से में कपिल और राम मय बाइक के फंस गए। कुछ देर बाद उनकी मौत हो गई। जबकि बहन किरन टक्कर के बाद सड़क पर जा गिरी, जिससे वह बुरी तरह घायल हो गई।

तीन साल पहले हुई थी कपिल की शादी: कपिल की शादी तीन साल पहले हुई थी। उसकी डेढ़ साल की बेटी तमन्ना है। जबकि राम की शादी की तैयारी चल रही थी। कपिल व राम जुड़वा थे। उनका छोटा भाई भूरा है। उनका परिवार करई (पाटई) से करीब आठ साल पहले गुड़ी-गुढ़ा नाका ग्वालियर अाया था।

कपिल

राम

ममेरी बहन से ही बंधवाते थे राखी

कपिल, राम व भूरा ममेरी बहन किरन से ही राखी बंधवाते थे। किरन की पिछले साल ही शादी हुई थी। शादी के बाद भी वह हमेशा त्योहार अपनी बहन के साथ ही मनाते थे, इसके लिए भाई खुद ही ससुराल से उसे अपने खजांची बाबा की दरगाह गुड़ी गुढ़ा का नाका स्थिति घर पर लेकर आते थे।

बहन व प|ी को नहीं बताया: हादसे के बाद मंगलवार देर रात तक घायल किरन को कपिल व राम की मौत की सूचना परिजन ने नहीं दी। कपिल की प|ी को भी उसकी मौत की सूचना नहीं दी गई।

पार्षद कहता रहा फिर भी अधिकारियों ने गड्ढे नहीं भरवाए, ऑटो पलटने से ड्राइवर दबा, मौत

ग्वालियर| सागरताल रोड पर लोडिंग आॅटो सड़क के गड्ढों में अनियंत्रित होकर पलट गया। हादसे में ड्राइवर की मौत हो गई, जबकि उसका भाई घायल हो गया। घटना सोमवार-मंगलवार की रात करीब साढ़े 12 बजे हुआ। सड़क नेशनल हाईवे अथॉरिटी के जिम्मे है। स्थानीय पार्षद ने संबंधित अधिकारियों को कई बार पत्र लिखकर गड्ढे भरने के लिए कहा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। हादसे के बाद मंगलवार दोपहर को गड्ढों पर मुरम डलवाई गई। लेले की बगिया गोल पहाड़िया निवासी लोडिंग ऑटो के ड्राइवर गोपी (45) पुत्र हीरा कुशवाह टोपी बाजार से माल भरकर ट्रांसपोर्ट नगर में उतारने के लिए जा रहे थे। उनके भाई लक्ष्मीनारायण कुशवाह ऑटो में सवार थे। सागरताल रोड पर सड़क के एक साइड में ट्रक खड़ा था, इसलिए गोपी ने आॅटो को गड्ढों से बचाने के लिए दूसरी ओर घुमाने की कोशिश की, इसी दौरान अनियंत्रित होकर ऑटो पलट गया। जिसमें गोपी दबकर रह गया। जबकि लक्ष्मीनारायण घायल हो गया। मौके पर पहुंची बहोड़ापुर पुलिस ने गोपी को ऑटो से निकलवाकर अस्पताल भेजा, जहां उसे मृत घोषित किया गया।

गोपी कुशवाह

पार्षद बोले- पत्र लिखने के बाद भी नहीं भरवाए गड्ढे

पार्षद जगत सिंह कौरव ने बताया कि सागरताल रोड नेशनल हाईवे अथॉरिटी की है। इस पर हुए गड्ढों को भरवाने को लेकर मैंने कई बार एनएचएआई के अधिकारियों को पत्र लिखे। कुछ समय पहले काली गिट्टी डालकर गड्ढे भरवाए भी गए। लेकिन इससे वाहन फिसल रहे थे जिसकी सूचना भी एनएचएआई को दे दी गई थी। लेकिन अधिकारियों ने इसे गंभीरता से नहीं लिया।

खबरें और भी हैं...