पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • जीडीए: 5 किमी सड़क बनाई कोर्ट: गुणवत्ता की जांच होगी

जीडीए: 5 किमी सड़क बनाई कोर्ट: गुणवत्ता की जांच होगी

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ट्रांसपोर्ट नगर की खस्ताहाल स्थिति को लेकर दायर अवमानना याचिका पर ग्वालियर विकास प्राधिकरण ने अपना जवाब पेश कर दिया है। मंगलवार को हुई सुनवाई में एडवोकेट एमपीएस रघुवंशी ने बताया कि 4.7 किलोमीटर सड़क बना दी गई है। जबकि शेष कार्य जल्द से जल्द पूरा कर लिया जाएगा। तीन प्रमुख सड़कें पहले ही बन चुकी है। इस पर कोर्ट ने चीफ इंजीनियर (टेस्टिंग) को सड़क की गुणवत्ता जांचने का निर्देश दिया।

गौरतलब है कि पूर्व में दिनेश सिंह भदौरिया की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने विजयदत्त शर्मा को सड़क की जांच के लिए कोर्ट कमिश्नर नियुक्त किया था। उन्होंने प्राधिकरण व निगम के अधिकारियों के साथ ट्रांसपोर्ट नगर का निरीक्षण किया था, जिसमें ये बात सामने आई कि कोर्ट ने कुल 13.5 किलोमीटर सड़क बनाने का आदेश दिया है जबकि अब तक केवल 3.5 किलोमीटर सड़क ही बन पाई है।

हकीकत: कच्ची सड़कों से उड़ रही धूल, गहरे गड्ढे भी

ग्वालियर| ट्रांसपोर्ट नगर में सड़कों के निर्माण को लेकर जीडीए जितने भी दावे करे। लेकिन वास्तविकता में स्थिति बिल्कुल उलट है। ट्रांसपोर्ट नगर के हर पार्किंग ब्लॉक में गहरे गड्‌ढों वाली कच्ची सड़कें लोगों के लिए मुसीबत बनी हुई हैं। हाईकोर्ट में याचिका दायर होने के बाद प्राधिकरण ने वहां सड़क निर्माण का काम तो शुरू कराया। लेकिन सिर्फ पार्किंग नंबर 1 व 4 में ही काम शुरू कराया गया। उसमें भी पार्किंग नंबर 1 की सड़क अधूरी छोड़ दी गई है। इसके अलावा पार्किंग नंबर 5, 6, 3 व दूसरे ब्लॉकों में भी सड़कों का काम शुरू नहीं हुआ। इन सड़कों पर आए दिन भारी वाहन गड्ढों के कारण पलट जाते हैं। यहां लोग गाड़ियां सुधारने का काम करते हैं इसलिए वाहनों की आवाजाही से उड़ने वाली धूल लोगों को बीमार कर रही है।

खबरें और भी हैं...