पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • उद्यमी व पाक कला में निपुण बनने 40 महिलाएं ले रहीं प्रशिक्षण

उद्यमी व पाक कला में निपुण बनने 40 महिलाएं ले रहीं प्रशिक्षण

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
छोटे-मोट उद्योग और पाक कला में महिलाओं को निपुण बनाने के लिए अग्रवाल महिला मंडल कार्यशाला का आयोजन कर रही है। यह आयोजन गायत्री मंदिर के पास स्थित अग्रवाल धर्मशाला में चल रहा है। इसमें पलक बाफना महिलाओं को विभिन्न फ्लेवर वाले शरबत और पाक कला की बारीकियां सिखाई जा रही हैं।

अग्रवाल महिला मंडल की अध्यक्ष सुधा अग्रवाल ने बताया आयोजन का उद्देश्य है कि महिलाएं समय के साथ बदलते दौर में खुद को अपडेट रखते हुए छोटे-मोटे धंधों में उद्यमी की भूमिका निभा सकें। महिलाओं के लिए पाक कला का क्षेत्र बहुत संभावनाओं से भरा हुआ है। उन्होंने बताया अन्य उद्योगों में भी महिलाए कई शीर्ष ओहदों पर हैं। उन्होंने बताया धर्मशाला में मिल्क शेक, मोक्टेल, शरबत का प्रीमिक्स पावडर बनाने की विधियां सिखाई जा रही हैं। जिसे सीखकर महिलाएं बाद में घर पर ही इसे तैयार कर सके। इससे जहां उनका आत्म विश्वास बढ़ेगा, वहीं वे अच्छा रिस्पांस मिलने पर इसे छोटे धंधे के रूप में शुरू भी कर सकती हैं। इसके अलावा कुकिंग में पारंगत होने के बाद अपने घरों में भी कक्षाएं लगाकर इस कला को बढ़ाते हुए रुपए कमा सकती हैं। आयोजन में हरदा के अलावा हंडिया व सिराली की प्रतिभागी महिलाएं भी शामिल हुईं।

आत्मनिर्भरता
अग्रवाल महिला मंडल अग्रवाल धर्मशाला में लगा रहीं क्लास, मिल्क शेक, मोक्टेल, शरबत का पावडर बनाने की सिखा रही विधियां
हरदा। प्रशिक्षण में शामिल पाक कला की जानकारी लेतीं महिलाएं।

महिलाओं का समूह बना रहा अगरबत्ती, मार्केटिंग

करने के लिए नगर पालिका करेगी मदद
हरदा| दीनदयाल अंत्योदय राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के गठित नवशक्ति महिला सहायता समूह के माध्यम से अगरबत्ती बना रही है। इस समूह को नपा ने बैंक से लिंकेज कराया है। समूह की सदस्यों ने शुक्रवार को आजीविका मिशन के सिटी मैनेजर तरुण पाटिल व दीपक दीक्षित को उत्पाद की जानकारी दी। सदस्यों ने नपा सीएमओ दिनेश मिश्रा को अगरबत्ती भेंट की। साथ ही समूह के संचालक की विस्तार से जानकारी दी। मिश्रा ने महिलाओं की पहल की प्रशंसा करते हुए कहा इससे वे आत्म निर्भर बनेंगी। उन्हें अपनी जरुरतों की पूर्ति के लिए परिवार में किसी के सामने हाथ नहीं फैलाने पड़ेंगे। सीएमओ ने संबंधितों से कहा वे महिलाओं द्वारा तैयार उत्पाद के विक्रय के लिए बाजार में मार्केटिंग व प्रचार-प्रसार की व्यवस्था में सहयोग करें। जिससे उनके उत्पाद ज्यादा से ज्यादा बिक सकें। समूह की प्रसिद्धि बढ़े और उन्हें आर्थिक मुनाफा हो। मिश्रा ने रोजगार की तलाश में लगी अन्य महिलाओं को भी इस निर्माण से जुड़ने की बात कही।

खबरें और भी हैं...