पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • बस्ती पीरदाद में ट्रीटमेंट प्लांट के लिए 43 करोड़ रुपए की डीपीआर मंजूर

बस्ती पीरदाद में ट्रीटमेंट प्लांट के लिए 43 करोड़ रुपए की डीपीआर मंजूर

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लोकल बाॅडी डिपार्टमेंट ने बस्ती पीरदाद में 43 एमएलडी ट्रीटमेंट प्लांट की 43 करोड़ रुपए डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट मंजूर कर ली है। इसे अब स्टेट टेक्निकल कमेटी को भेजा गया है।

कमेटी से मंजूरी के बाद नगर निगम टेंडर प्रोसेस शुरू करेगा। वहीं, वरियाणा पर जमा करीब 5 लाख टन कूड़े को खत्म करने के लिए सितंबर 2017 में तैयार किया गया बायो माइनिंग प्रोजेक्ट लोकल बॉडी डिपार्टमेंट ने अभी तक क्लियर नहीं किया है। यह प्रोजेक्ट मेयर सुनील ज्योति के समय में पास किया गया था। अगर प्रोजेक्ट पर काम होता है तो कूड़ा 3 साल में खत्म हो सकता है।

50 एमएलडी के प्लांट में 70 एमएलडी पानी आ रहा
बस्ती पीरदाद में प्लांट लगने से मौजूदा समय में बस्ती पीरदाद 50 एमएलडी सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट है लेकिन प्लांट पर सीवरेज से 70 एमएलडी पानी पहुंचने पहुंच रहा है ऐसे में 50 एमएलडी से ज्यादा पानी को मैनेज करना मुश्किल हो रहा है। प्लांट पर 50 एमएलडी पानी ट्रीट हो रहा है और बाकी ड्रेन में फेंका जा रहा है। शिव नगर में रेलवे लाइन के नीचे से सीवरेज की लाइन कनेक्ट होने पर प्लांट में पूरा पानी पहुंचेगा।

सरकार हल्के में ले रही बायो माइनिंग प्रोजेक्ट, शहर में बढ़ता जा रहा कूड़ा

लोकल बाॅडी डिपार्टमेंट बायोमाइनिंग प्रोजेक्ट को हल्के से ले रही है। सितंबर 2017 में निगम हाउस में प्रोजेक्ट पास करके लोकल बाडी डिपार्टमेंट को भेजा था। अभी तक इसे अप्रूव नहीं किया गया है। मेयर जगदीश राजा ने भी कहा था कि वह इस पर सरकार से बात करेंगे। अगर प्रोजेक्ट ठीक है तो शुरू करवाएंगे। सरकार ने प्रोजेक्ट कास्ट ज्यादा होने के कारण रोका हुआ है। सरकार ने इसे रिव्यू के लिए कहा था। नगर निगम ने रिव्यू के बाद दोबारा भी भेजा है लेकिन अभी तक कोई फैसला नहीं हुआ। वरियाणा डंप पर करीब 5 लाख क्यूबिक मीटर कूड़ा है। रोजाना 500 टन कूड़ा डंप पर जा रहा है। वेस्ट-टू-एनर्जी प्लांट भी हाउस में पास कर लिया गया गया है। इसका विरोध भी हो रहा है। ऐसे में कूड़ा खत्म करने का काम शुरू न हुआ तो प्लांट लगाने में भी रुकावट आ सकती है।

खबरें और भी हैं...