पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • सेंट जोसेफ स्कूल की टीचर पर एफआईआर सीसीटीवी फुटेज और पानी की बोतल जब्त

सेंट जोसेफ स्कूल की टीचर पर एफआईआर सीसीटीवी फुटेज और पानी की बोतल जब्त

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
डिफेंस कॉलोनी स्थित सेंट जोसेफ कान्वेंट स्कूल फॉर बॉयज में आठवीं कक्षा में पढ़ने वाले स्टूडेंट को पानी की बोतल में यूरिन पिलाने के मामले में चौथे दिन एससी कमीशन के हस्तक्षेप पर पुलिस ने स्कूल टीचर शिंकी शर्मा के खिलाफ एससीएसटी एक्ट और मारपीट की एफआईआर दर्ज कर ली है। एससीएसटी कमीशन के मेंबर राजकुमार हंस मंगलवार सुबह सेंट जोसेफ स्कूल पहुंचे और करीब डेढ़ घंटे तक जांच की। स्कूल के स्टाफ और प्रिंसिपल डेती के बयान कलमबद्ध किए। उसके बाद स्कूल का सीसीटीवी रिकॉर्ड और यूरिन पिलाने के लिए इस्तेमाल की गई पानी वाली बोतल कब्जे में ले ली। टीम आर्थोनोवा अस्पताल भी गई, जहां पीड़ित स्टूडेंट एडमिट है।

दरअसल घटना के बाद स्टूडेंट ने घर की छत से छलांग लगा दी थी। इससे उसके हाथ-पैर में चोट आई है। एसीपी डीएस बुट्‌टर ने बताया कि पानी की बोतल फोरेंसिक लैब भेजी जाएगी। स्कूल से जब्त सीसीटीवी फुटेज की जांच करके अगली कार्रवाई की जाएगी।

प्रिंसिपल के बयान कलमबद्ध

अस्पताल में जानकारी हासिल करते हुए राजकुमार हंस। -भास्कर

आठवीं कक्षा की इंचार्ज और केमिस्ट्री टीचर शिंकी शर्मा के खिलाफ एफआईआर इसलिए की गई है क्योंकि बच्चे का आरोप है कि यूरीन पिलाने की शिकायत लेकर जब वह टीचर के पास गया तो वह तीसरी मंजिल से उसे पीटते हुए प्रिंसिपल डेती के पास ले गई। जबकि यूरिन पिलाने वाले बच्चों को कुछ नहीं कहा। इससे आहत होकर उसने घर पहुंचते ही छत से छलांग लगा दी।

यह था मामला

दरअसल 3 अगस्त को 8वीं के स्टूडेंट को क्लास के स्टूडेंट्स ने पीने वाले पानी की बॉटल में यूरिन डाल कर पिला दिया था। जब स्टूडेंट ने पानी समझ कर यूरिन पिया तो बाकी स्टूडेंट्स ने तालियां बजानी शुरू कर दीं। उसके बाद टीचर को शिकायत की गई और मामला प्रिंसिपल तक पहुंचाया गया। उसके बाद घर जाकर स्टूडेंट ने छत से छलांग लगा दी थी।

शिकायत करने पर टीचर पर पीटते हुए प्रिंसिपल के पास ले जाने का आरोप, इसलिए हुई एफआईआर

मैं तो दूसरी क्लास में थी और बच्चे को छुआ तक नहीं : शिंकी शर्मा...स्कूल टीचर शिंकी शर्मा का कहना है कि उन्होंने स्टूडेंट को हाथ तक नहीं लगाया। जब ये घटना हुई, तब स्कूल में सातवां पीरियड चल रहा था और उस समय वे किसी दूसरी क्लास में पढ़ा रही थीं। उन्हें दूसरे टीचर्स ने आकर घटना की जानकारी दी। जबकि शाम को उन्हें बच्चे के परिवार से एफआईआर दर्ज करवाने की धमकियां मिलने लगीं, जिसकी शिकायत उन्होंने कर दी थी। उधर, प्रिंसिपल डेती ने बताया कि उन्होंने दोनों स्टूडेंट्स के पेरेंट्स को मौके पर बुलाया और दोनों पक्षों की बात सुनी। उन्होंने बोतल टैस्ट करवाने और उसके नतीजे आने पर एक्शन लेने की बात कही थी। किसी भी टीचर ने स्टूडेंट को नहीं पीटा।

एससी कमीशन ने पुलिस से 29 तक मांगी रिपोर्ट... एससी कमीशन के मेंबर राजकुमार हंस ने एसीपी डीएस बुट्‌टर को पूरी इन्वेस्टिगेशन करके 29 अगस्त तक रिपोर्ट कमीशन के पास भेजने के लिए कहा है। शिक्षा विभाग के डिप्टी डीओ और वेलफेयर ऑफिसर को भी रिपोर्ट तैयार करने के लिए कहा है।

क्रिकेटर है बेटा, रेस्टीकेट करने की धमकी दी... बच्चे की मां का कहना है कि उनका बेटा अंतर्राष्ट्रीय स्तर का क्रिकेट खिलाड़ी है। दो महीने बाद ऑस्ट्रेलिया में होने वाली एक लीग में भी शामिल होने के लिए उसकी सिलेक्शन हुई थी। इससे पहले क्रिकेट के लिए वह दुबई और साउथ अफ्रीका भी जा चुका है।

खबरें और भी हैं...