पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • गर्भवती के गर्भावस्था व प्रसव पूर्व जोखिमों की जांच कल

गर्भवती के गर्भावस्था व प्रसव पूर्व जोखिमों की जांच कल

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
चिकित्सा विभाग की ओर से जिले में 9 अगस्त को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान मनाया जाएगा। जिले की सभी गर्भवती महिलाओं को गुणवत्तापूर्ण प्रसव पूर्व विशेष जांच सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए आशा सहयोगिनियों के माध्यम से द्वितीय एवं तृतीय तिमाही वाली महिलाओं के स्वास्थ्य जांच की जाएगी। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बीएल बिश्नोई बताया कि जिले के सभी सरकारी चिकित्सालयों में अभियान के तहत गर्भवती महिलाओं की जांच की जाएगी। राजकीय जिला चिकित्सालय सहित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र और प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर गर्भवती महिलाओं को स्त्री रोग विशेषज्ञों की देखरेख में प्रसव पूर्व स्वास्थ्य जांच एवं परामर्श की निशुल्क सेवाएं दी जाएगी। गर्भवती महिलाओं के लिए खून की जांच, पेशाब की जांच, रक्तचाप, शुगर इत्यादि जांच सहित आवश्यक दवाइयां भी दी जाएगी।

अभियान के तहत की जाने वाली गतिविधियों की मॉनिटरिंग के लिए अधिकारियों को निर्देश देते हुए डॉ बिश्नोई ने बताया गुरूवार को मनाए जाने वाले अभियान की मॉनिटरिंग के लिए सभी जिला स्तरीय अधिकारियों तथा बीसीएमओ को निर्देश दिए गए है कि वे सीएचसी, पीएचसी का निरीक्षण कर गर्भवती महिलाओं को दी जाने वाली सेवाओं की गुणवत्ता की जांच कर रिपोर्ट पेश करें।

जिला प्रजनन एवं शिशु स्वास्थ्य अधिकारी डॉ रतनलाल मेघवाल ने बताया कि प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं की एचबी, एचआईवी, सिफलिस, बीपी, तापमान की जांच, ह्रदय स्पंदन की जांच सहित जटिलता की जांच की जाती है। वहीं गर्भवती को आईएफ.ए, कैल्शियम और अन्य आवश्यक दवाइयां भी दी जाएगी। अभियान के दौरान स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ अपनी सेवाएं देंगे। अभियान के दौरान गर्भावस्था और प्रसव के दौरान जोखिम के कारणों का समय पर पता लग जाता है तथा इससे विभिन्न कारणों से होने वाली असमय मृत्यु के खतरे पर को काफी हद तक कम करने में मदद मिली है।

खबरें और भी हैं...