पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • 768 स्कूलों में मिड डे मील जांचने का 96 अफसरों काे जिम्मा पहले दिन आधे भी नहीं गए, व्यस्तता बैठक के कारण बताए

768 स्कूलों में मिड-डे-मील जांचने का 96 अफसरों काे जिम्मा पहले दिन आधे भी नहीं गए, व्यस्तता-बैठक के कारण बताए

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
एजुकेशन रिपोर्टर . जोधपुर| कलेक्टर डॉ. रवि कुमार सुरपुर ने 768 स्कूलों में मिड डे मील की गुणवत्ता जांचने के लिए 96 अधिकारियों को मंगलवार और बुधवार को स्कूलों में जाकर निरीक्षण करने के निर्देश दिए थे। मगर पहले दिन आधे अधिकारी भी स्कूलों में नहीं पहुंचे। इन दो दिन में प्रत्येक अधिकारी को 4-4 स्कूलों में पोषाहार जांचना था। साथ ही अन्नपूर्णा दूध योजना की जांच भी करनी थी। कलेक्टर ने नगर निगम के आयुक्त, उपायुक्त, जेडीए के आयुक्त, उपायुक्त, सभी एडीएम, एसडीएम, तहसीलदार, बीडीओ, नगर पालिकाओं के ईओ, बीईईओ, डीईओ, एडीईओ को निरीक्षण करने के आदेश दिए थे, लेकिन आधे से भी कम अधिकारी स्कूलों में पहुंचे।

मंगलवार को निरीक्षण नहीं किया, आज करना होगा

कलेक्टर डॉ. रवि कुमार सुरपुर ने बताया, कि अधिकारियों को दो दिन में 8 स्कूलाें का निरीक्षण करके रिपोर्ट देनी है। मंगलवार को जिन अधिकारियों ने निरीक्षण नहीं किया, उन्हें अब एक साथ 8 स्कूलों का बुधवार को निरीक्षण करना होगा। आदेश की पालना नहीं करने पर कार्रवाई की जाएगी।

एसडीएम के निरीक्षण में खुली स्कूल की पोल

एसडीएम जोधपुर ने राउमावि करवड़ में निरीक्षण किया तो वहां पर आईसीटी लैब बंद मिली। स्कूल की कक्षा 9 के छात्र अधिक कोण, सम कोण, न्यून कोण के बारे में भी नहीं बता पाए। एसडीएम सुमित्रा पारीक ने प्रधानाचार्य को बच्चों की पढ़ाई पर पूरा ध्यान देने के निर्देश दिए। रिपोर्ट कलेक्टर को भेजेंगे।

अफसर बोले- आज निरीक्षण करने जाएंगे

एडीएम प्रथम छगनलाल गोयल बोले- दूसरे सरकारी कार्य में व्यस्त होने से स्कूल नहीं जा पाए।

जेडीए उपायुक्त सीमा कविया का कहना था, कि निरीक्षण नहीं कर पाई, अब बुधवार को जांच करूंगी।

महिला बाल विकास विभाग के उप निदेशक दलवीरसिंह ढड्ढा ने बताया, कि विभाग की आवश्यक बैठक के चलते निरीक्षण नहीं कर पाए।

तहसीलदार श्रवणसिंह राठौड़ ने बताया, कि निरीक्षण नहीं किया है। अब करेंगे।

खबरें और भी हैं...