पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • छात्रों की झिझक दूर करने बुलाए जाते हैं मंच पर

छात्रों की झिझक दूर करने बुलाए जाते हैं मंच पर

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ग्राम ईच्छापुर हायर सेकेंडरी स्कूल में बालसभा का गठन किया गया। यहां इस शिक्षासत्र में प्राचार्य की पहल से पढ़ाई के साथ हर शनिवार को बच्चों की झिझक दूर करने व आत्मविश्वास पैदा करने मंचीय कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। छात्र-छात्राएं कविता, गीत, डांस व चुटकुला के साथ किसी विषय पर अपनी अभिव्यक्ति प्रस्तुत करते हैं। बच्चे सामान्य ज्ञान की भी बातें करते हैं। 9वीं से 12वीं तक के 181 छात्र-छात्राएं उत्साह के साथ इस कार्यक्रम में भाग लेते हैं।

बच्चों का जन्मदिन मनाकर देते हैं उपहार

गांव के प्राय: बच्चे जन्मदिन नहीं मना पाते। कई बच्चों को तो जन्मदिन की जानकारी तक नहीं होती। ईच्छापुर के स्कूल में खुशनुमा माहौल बनाने सप्ताहभर में जिनका जन्मदिन पड़ता है उसे एक दिन सेलिब्रेट कर स्कूल प्रबंधन द्वारा उन्हें उपहार दिया जाता है। बच्चों को गुलाल लगाकर व ताली बजाकर खुशी मनाई जाती है।

मंच मिलने से मन का डर दूर हो रहा: 10वीं की दुर्गेश्वरी कोर्राम ने कहा बालसभा कार्यक्रम में उसे अपनी स्वरचित कविता सुनाने का मौका मिल रहा है। छात्रा सीमा पोटाई, छात्र निखिल डोंगरे ने कहा मंच मिलने से मन का डर दूर हो रहा है। अनिता पोटाई, सावित्री थप्पा, नेहा कोरेटी, देवेंद्र कांगे ने कहा पढ़ाई के साथ एक दिन इस तरह का कार्यक्रम जरूरी है।

पहल

ईच्छापुर हायर सेकेंडरी स्कूल में बालसभा का गठन, हफ्ते में एक दिन होता है आयोजन

कांकेर। बालसभा में बच्चे बेबाक होकर रखते हैं अपनी बातें।

बच्चों की छुपी प्रतिभा विकसित हो रही: प्राचार्य

प्राचार्य हरीश साहू ने कहा इस तरह कार्यक्रम कराने से माहौल खुशनुमा बन रहा है। बच्चों की छुपी प्रतिभा विकसित हो रही है। झिझक दूर होकर बच्चों में आत्मविश्वास आ रहा है। शिक्षक सतीशचंद्र प्रसाद, कुसुमलता गंजीर, सरिता ठाकुर, कविता नेताम ने कहा प्राचार्य ने अच्छी पहल की है। इससे बच्चों का व्यक्तित्व विकास होगा। स्कूल में जन्मदिन मनाने से बच्चे काफी खुश हैं।

खबरें और भी हैं...