पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • बादल छाने से किसान चिंतित तेज की फसल की कटाई

बादल छाने से किसान चिंतित तेज की फसल की कटाई

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मौसम के बिगड़े मिजाज को देख कटी हुई गेहूं की फसल को समेटता किसान।

भास्कर टीम | अंचल

मौसम ने एक बार फिर करवट बदली है। तीन दिन से आसमान साफ रहने के बाद शुक्रवार को फिर से दिनभर मौसम बिगडऩे से खेतों में खड़ी गेहूं की फसल काटने की तैयारी कर रहे किसानों के दिल की धड़कन बढ़ गई। अंचल भर में आकाश में दिनभर बादल छाए रहे , बीच बीच में तेज हवाएं भी चली। वेस्टर्न डिस्टरबेंस के असर से गुरुवार शाम को ही मौसम ने परिवर्तन के संकेत दे दिए थे। रातभर तेज हवा के झोंके महसूस किए गए । तेज रफ्तार हवाओं ने क्षेत्रीय किसानों की नींद उड़ा दी।

खेतों में खड़ी गेहूं की फसल हवा के साथ आड़ी गिरने की आशंका के चलते किसान रातभर ठीक से सो भी नहीं पाए। तेज हवाएं अपने साथ बादलों को उड़ा लाईं। शुक्रवार को सुबह से दिनभर आकाश में बादलों का जमावड़ा दिखाई दिया। बड़ौदा, कराहल, विजयपुर, वीरपुर, रघुनाथपुर, ढोढर,मानपुर, दांतरदा में बिगड़े मौसम को लेकर किसान चिंतित रहे। आकाश में धूल का गुबार छाए रहने से किसानों को तेज आंधी चलने का अंदेशा बना रहा। धूप-छांव के बीच दिन गुजरा।

एक बार फिर मौसम के बिगड़े मिजाज को देखकर शुक्रवार को क्षेत्रीय किसान सहम गए। क्षेत्र में सरसों, चना, मैथी, धनिया की कटाई हो चुकी है। गेहूं की कटाई का काम चल रहा है। जिलेभर में इस बार 46 हजार हेक्टेयर में गेहूं की फसल काश्तकारों ने की है। इसमें अभी भी 30 हजार हेक्टेयर रकबे में गेहूं की फसल अभी तक खेतों में खड़ी है। किसानों का कहना है कि तेज हवा के कारण कटी फसल उडऩे और आड़ी गिरने की आशंका रहती है।

खबरें और भी हैं...