पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • दो बाइक सवार 12 सेकेंड में 6 लाख की नकदी से भरा बैग लेकर हुए फरार

दो बाइक सवार 12 सेकेंड में 6 लाख की नकदी से भरा बैग लेकर हुए फरार

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कुंजपुरा रोड स्थित एचडीएफसी बैंक से 8 लाख रुपए लेकर चले सुपरवाइजर के मीराघाटी चौक के पास छह लाख रुपए चोरी हो गए। मधुबन स्थित एक धागा फैक्ट्री के सुपरवाइजर सुभाष की जेब में रखे दो लाख रुपए बच गए। नमस्ते चौक की तरफ जाते वक्त रॉन्ग साइड में डेयरी है। सुपरवाइजर सुभाष वहां पर लस्सी लेने गया तो बाइक पर पैसों का भरा बैग छोड़ गया। बगैर नंबर की पल्सर बाइक सवार दो युवक छह लाख रुपए रखे बैग को लेकर फरार हो गए। पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई। घटना की सूचना मिलते ही सिटी थाना प्रभारी मोहनलाल, सीआईए टीमें मौके पर पहुंची। शहर में नाकेबंदी कराई गई, लेकिन आरोपियों का कोई सुराग नहीं लगा। पुलिस का कहना है कि फैक्ट्री संचालक और सुपरवाइजर की लापरवाही से यह घटना हुई है। यदि फैक्ट्री संचालक पैसे के प्रति गंभीर होते तो इतनी मोटी रकम के साथ गाड़ी और गनमैन भेजते। बाइक पर एक कर्मचारी को भेजना लापरवाही है। फैक्ट्री के संचालक वीरेंद्र चावला का कहना है कि उन्हें कर्मचारी पर शक नहीं है।

कर्मचारियों की सेलरी के लिए निकलवाए थे आठ लाख रुपए
सीसीटीवी में कैद हुए आराेपी।

सीसीटीवी में हुआ क्लीयर

जिस जगह पर बाइक रोकी गई। वहां पर दो कैमरे लगे हुए हैं। उनमें क्लीयर है कि सुपरवाइजर सुभाष ने मीरा घाटी से नमस्ते चौक से होकर मधुबन फैक्ट्री में जाना था। उसने मीराघाटी चौक से नमस्ते चौक की तरफ 50 मीटर रॉन्ग साइड चलकर बाइक रोकी। छह लाख के अमाउंट के बैग को वो बाइक के हैंडल पर लटकाकर कान्हा जी डेयरी पर लस्सी लेने गया। इस दौरान पल्सर बाइक पर दो युवक आते हैं। एक हेल्मेट लगाकर बाइक स्टार्ट रखता है। दूसरा उसके पीछे लाल टी-शर्ट और जींस पेंट में होता है। वह बाइक से उतरकर पैसे से भरे बैग को लेकर तेज गति से बाइक पर बैठकर रफूचक्कर हो जाते हैं। वारदात को अंजाम देने के लिए आरोपी भी रॉन्ग साइड से आए आैर वारदात की।

कुंजपुरा रोड एचडीएफसी बैंक से रैकी करने का शक

कुंजपुरा रोड स्थित एचडीएफसी बैंक से सुपरवाइजर ने आठ लाख रुपए निकलवाए। पीड़ित ने बताया कि वो यह पेमेंट फैक्ट्री के कर्मचारियों की सेलरी देने के लिए निकलवाकर ले जा रहा था। दो लाख रुपए उसने अपनी जेब में रख लिए और छह लाख रुपए बैग में डाल लिए। पुलिस और पीड़ित का शक है कि बैंक से उसकी रैकी की गई। यही कारण है कि मौका लगते ही दोनों युवकों ने 12 सेकेंड में इस बड़ी वारदात को अंजाम दे दिया।

पीड़ित सुभाष की जुबानी...

पीड़ित सुभाष ने बताया कि वह मीराघाटी चौक क्रॉस करके आगे बढ़ा ही था कि बाइक सवार लड़के ने आवाज लगाई कि पंक्चर-पंक्चर। मैने बाइक रोककर देखा। इस दौरान वह आवाज लगाने वाले भी कुछ दूरी पर रूक गए। गर्मी के कारण वह साथ लगती दुकान पर लस्सी लेने गए तो इतने में बाइक पर लटक रहे पैसे के बैग को लेकर वह भाग रहा था। दुकान से ही शोर मचाते हुए मैं उनके पीछे भागा और गिर गया। आरोपी पैसे का बैग लेकर करीब 20 मीटर दूर भागा था और उसके बाद बाइक पर सवार होकर फरार हो गया।

सुबह 11:47 बजे हुई घटना

सुपरवाइजर सुभाष शनिवार दोपहर 11 बजे बैंक में पहुंचा। करीब 11:30 बजे बैंक से पेमेंट लेकर बाइक पर चला। शहर के बीच से होकर वह सुबह 11:46 बजे मीराघाटी चौक पर पहुंचे। इस दौरान रॉन्ग साइड में बाइक को खड़ा कर दिया और डेयरी पर लस्सी लेने चला गया। 11.47 बजे तक बैग चोरी हो गया। ये वारदात 12 सेकेंड में हुई।

इतनी हैवी अमाउंट्स लेकर बाइक पर चलना और बाइक पर भी छह लाख रुपए रखकर लस्सी लेने जाना सहित अन्य पहलू लापरवाही को दर्शा रहे हैं। सीसीटीवी की फुटेज ली गई है। हर पहलू को ध्यान में रखते हुए कार्रवाई की जाएगी। अज्ञात के खिलाफ चोरी का केस दर्ज कर लिया है। - मोहनलाल, एसएचओ,सिटी थाना प्रभारी

खबरें और भी हैं...