पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • फेसबुक पर डाला : ऑन द वे टू उज्जैन, लौटे तो घर में हो गई 11.60 लाख रुपए की चोरी

फेसबुक पर डाला : ऑन द वे टू उज्जैन, लौटे तो घर में हो गई 11.60 लाख रुपए की चोरी

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पीजी कॉलेज कवर्धा के पीछे गंगानगर के एक सूने घर में अज्ञात चोरों ने 11.60 लाख रुपए कैश समेत सोने-चांदी के गहनाें पर हाथ साफ कर फरार हो गए। मंगलवार शाम 4जब परिवार के लोग घर लौटे, तो उन्हें चोरी का पता चला। पुलिस को अभी सुराग नहीं मिला है।

पीड़िता संजय रानी पति तिरूपति पात्रो गंगानगर में रहती हैं। वो और उसकी फैमिली 2 अगस्त को घर में ताला लगाकर महाबलेश्वर दर्शन को निकले। इसी बीच चोरों ने आलमारी का लॉकर तोड़कर उसमें रखे 1.60 लाख कैश व 10 लाख के गहने पार कर दिए। इधर परिजन महाबलेश्वर से साेमवार रात 1.30 बजे कवर्धा पहुंचे। यहां वे रातभर परिचित के घर रुके। फिर मंगलवार शाम 4 बजे घर आए, तो देखा आलमारी खुली थी। सारा सामान बिखरा था। कैश व गहने गायब थे। देर शाम तक एफआईआर नहीं दर्ज हुई।

घर से लगा बरगद का पेड़, उसी से छत पर पहुंचे चोर

गंगानगर जिस घर से चोरी हुई, उससे लगा हुआ एक बरगद का पेड़ है। पुलिस को शक है कि उसी पर चढ़कर आरोपी पहले छत में पहुंचा। छत में पतले टिन का दरवाजा लगा था, उसकी कुंडी तोड़ी। फिर घर के भीतर दाखिल हुआ। कमरों में ताला नहीं लगा था। कुंडी खोलकर अज्ञात चोरों ने आसानी से कैश व जेवर निकाले और छत के रास्ते से ही फरार हो गया।

पढ़िए, पुलिस की नाकामी की कहानी

पेज 17 पर

कवर्धा. पुलिस को अशंका है कि चोर पेड़ से दाखिल हुए।

घर में सीसीटीवी कैमरा नहीं

परिवार में पति-प|ी समेत 4 सदस्य रहते हैं। घर से लगी किराना दुकान है। घर व दुकान में सीसीटीवी कैमरा नहीं लगा है। एेसे में चोरों का पकड़ना तो दूर उनका सुराग ढूंढना भी चुनौती है। डॉग स्क्वाॅड को भी सुराग नहीं मिला। ये पूरी तरह से ब्लाइंड चोरी मालूम हो रही है।

फेसबुक में पोस्ट किया: स्टेटस देखकर चाेरों का आइडिया लगाने की आशंका

पात्रो फैमिली 2 अगस्त की सुबह 7 बजे महाबलेश्वर जाने के लिए घर से निकले थे। उसी दिन परिवार की सदस्य गीतांजलि पात्रो ने फेसबुक स्टेटस पर पोस्ट किया था। जिसमें उसने फैमिली फोटो के साथ ऑन द वे टू उज्जैन.. लिखा था। आशंका है कि चोरों ने स्टेटस देखकर आइडिया लगा लिया। इसी का फायदा उठाया हो और वारदात को अंजाम दिया। क्योंकि सीएम के भतीजी दामाद के चोरी भी कुछ ऐसा ही देखा गया था। उन्होंने भी फेसबुक पर इसी तरह का पोस्ट किया था। यदि ऐसा है, तो पुलिस के लिए चुनौतियां पेश आ सकती हैं।

चोरी कब हुई, क्लीयर पता नहीं चल रहा

घर से करीब डेढ़ लाख रुपए कैश और लाखों के जेवर चोरी होना बता रहे हैं। चोरी कब हुई है, यह भी क्लीयर पता नहीं चल रहा है। परिवार के लोगों से पूछताछ की जा रही है। मामले की जांच शुरू कर दी है। माहेश्वर नाग, एएसपी, कबीरधाम

खबरें और भी हैं...