पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • प्रभु नाम का सिमरन ही जीवन से पार उतार सकता है : श्रीराम सेवक

प्रभु नाम का सिमरन ही जीवन से पार उतार सकता है : श्रीराम सेवक

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
श्री सरस्वती संस्कृत कालेज में आचार्य राष्ट्रपति सम्मानित श्री विश्वनाथ जी की पुण्यतिथि पर चल रही श्रीमद्भागवत कथा के तीसरे दिन का आरंभ प्रभु संकीर्तन से हुआ। जिसमें इस महाविद्यालय के पूर्व छात्र और व्यास श्री राम सेवक जी ने भागवत प्रेमियों को कथारस का अमृतपान कराया। व्यास जी ने कथा के माध्यम से सभी प्रेमियों व छात्रों को नाम की महिमा का वर्णन करते हुए सबको प्रभु नाम का कीर्तन करने को कहा। उन्होंने आगे कहा कि प्रभु नाम का सिमरन ही जीवन से पार उतार सकता है। मनुष्य को इसी को अपना सहारा बनाना चाहिए। चाणक्य डेयरी के एमडी विनोद दत्त ने भी कथा में हाजिरी लगवाई। इस मौके पर कालेज की प्रबंधक कमेटी के प्रधान राकेश गोयल, द्वारका दास, मनोज तिवारी, कृष्ण कुमार दुग्गल, विष्णु शर्मा, नितिन शर्मा, मनोज कुमार, रोहित शर्मा, कपिल देव भट्ट भी मौजूद रहे।

श्रीमद्भागवत कथा में भक्तों ने कथा का रसपान किया।

खबरें और भी हैं...