पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • पूर्व मंत्री भंवर जितेन्द्र सिंह के खिलाफ मामला आबकारी विभाग ने कहा, हमने नहीं दिया शराब बेचने का लाइसेंस

पूर्व मंत्री भंवर जितेन्द्र सिंह के खिलाफ मामला आबकारी विभाग ने कहा, हमने नहीं दिया शराब बेचने का लाइसेंस

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर | अलवर के कुशालगढ़ में राजस्थान सरकार की सीलिंग एक्ट में जब्त 9 बीघा जमीन पर कब्जा कर अवैध होटल बनाने के मामले में पूर्व केन्द्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह व उनकी प|ी अंबिका सिंह को एक और झटका लगा है। आबकारी विभाग ने गुरुवार को हाईकोर्ट में पेश किए गए जवाब में कहा है कि विभाग ने कुशालगढ़ के भवन में शराब बेचने का कोई लाइसेंस नहीं दिया। जितेन्द्र सिंह ने प्रार्थी पर आरोप लगाया कि उसके खिलाफ कई केस लंबित हैं, प्रार्थी ने उनकी राजनीतिक छवि खराब करने के लिए याचिका दायर की है। प्रार्थी ने एसीबी में भी मामला दर्ज कराया था। जिसमें एसीबी ने क्लोजर रिपोर्ट पेश कर दी है। अदालत ने जवाबों को रिकाॅर्ड पर लेते हुए मामले की सुनवाई टाल दी। गौरतलब है कि याचिका में कहा गया है कि आबकारी विभाग से शराब लाइसेंस लिए बिना ही सरकारी जमीन पर बनी होटल में शराब परोसी जाती है। इसलिए सरकार इस जमीन से होटल संचालकों को बेदखल कर जमीन का कब्जा वापस ले और इसे राज्य सरकार में पुन: निहित करे।

खबरें और भी हैं...