• Home
  • Chandigarh Zilla
  • Mohali
  • Kharar
  • खरड़ में खुला जिले का दूसरा जन औषधि केंद्र, सभी मरीज यहां से ले सकेंगे दवाइयां
--Advertisement--

खरड़ में खुला जिले का दूसरा जन औषधि केंद्र, सभी मरीज यहां से ले सकेंगे दवाइयां

सिविल अस्पताल खरड़ में जिला रेड क्रॉस सोसायटी की ओर से खोले गए जन औषधि केंद्र का उद्घाटन डीसी मोहाली गुरप्रीत कौर...

Danik Bhaskar | May 26, 2018, 02:00 AM IST
सिविल अस्पताल खरड़ में जिला रेड क्रॉस सोसायटी की ओर से खोले गए जन औषधि केंद्र का उद्घाटन डीसी मोहाली गुरप्रीत कौर सपरा ने किया। उन्होंने कहा कि उक्त औषधी केंद्र खरड़ के लोगों के लिए एक वरदान साबित होगा। उन्होंने बताया कि जिला मोहाली में यह दूसरा जन औषधि केंद्र है जो कामयाब होगा। इससे पहले सिविल अस्पताल फेज-6 में स्थापित किए गए जन औषधि केंद्र की सफलता के बाद ही खरड़ में केंद्र खोला गया है। इसके बाद जिले में तीसरा जन औषधि केंद्र डेराबस्सी में खोला जाएगा। इस मौके पर उन्होंने जन औषधी केंद्र का रिबन काटकर उद्घाटन किया। इस दौरान उनके साथ एसडीएम खरड़ अमनिंदर कौर बराड़, सिविल सर्जन डॉ. रीटा भारद्धाज, एसएमओ खरड़ डॉ. सुरिंदर सिंह व अन्य मौजूद रहे। उन्होंने कहा कि उक्त केंद्र में अस्पताल में आने वाले मरीज ही नहीं बल्कि शहर निवासी और आम लोग भी आवश्यक जेनेरिक दवाएं सस्ते दामों पर खरीद सकते हैं। उन्होंने बताया कि फेज -6 के बाद जिला रेड क्रॉस सोसायटी की ओर से अब दूसरा बड़े पैमाने पर सिविल अस्पताल खरड़ में जन औषधि केंद्र खोला गया है। इस मौके पर डीसी ने केंद्र में मौजूद दवाओं के बारे में जानकारी हासिल की और वही पर तैनात स्टाफ को स्टॉक संबंधी सेल परचेज का सारा रिकार्ड मेंटेन करने की हिदायतें दी। डीसी ने कहा कि इस केंद्र के खुलने से गरीब और जरूरतमंद लोगों को सस्ते दामों पर दवाएं मिल सकेंगी। इस मौके पर सिविल अस्पताल के एसएमओ को सख्त हिदायतें दी गई कि अस्पताल का कोई भी डॉक्टर बाहर की दवाएं ना लिखें बल्कि जन औषधि केंद्र की ही दवाएं प्रिस्क्राइब करें ताकि लोगों को इस केंद्र की सुविधा मिल सके। बाजार में बिकने वाली महंगी दवाएं इन केंद्रों पर 700 से 900 प्रतिशत कम दाम पर मिल सकेगी। इस मौके पर डीसी ने अस्पताल का दौरा किया ओर वहां खड़े मरीजों से बातचीत की और उनकी समस्याएं सुनी। इस मौके पर डिप्टी मेडिकल कमिश्नर डॉ. राकेश सिंगला, नोडल अधिकारी जन औषधि केंद्र एमपी सिंह, जिला रेड क्रॉस सोसायटी, हरप्रीत सिंह पैटर्न बोर्ड, विनायक, फार्मासिस्ट गगनदीप सिंह, प्यारा सिंह और संजीव कुमार और अन्य मौजूद रहे।

डीसी ने मरीज से कहा- बीबी जी, जे मैं डॉक्टरी पढ़ी हुंदी तां मैं ही खांसी दी दवाई लिख देंदी... अस्पताल में दौरे के दौरान मरीजों से बात करते समय एक बुजुर्ग महिला डीसी के पास आकर बोली कि उसे खांसी है दवा लिख दो तो डीसी ने कहा कि बीबी जी जे मैं डॉक्टरी पढ़ी हुंदी तां मैं खांसी दी दवाई लिख देंदी। इसके बाद उन्होंने एक डॉक्टर के कमरे में लगी मरीजों की भीड़ को देखते हुए डॉक्टर को कहा- माना कि वह अच्छी सेवाएं निभा रहे हैं मगर भीड़ इतनी भी ना हो कि मरीज को सांस भी ना आए। उन्होंने डॉक्टर से भीड़ को व्यवस्थित करने के लिए कहा।