Hindi News »Chandigarh Zilla »Mohali »Kharar» खरड़ के नूर विला-1 में पानी की सप्लाई ठप होने से बूंद-बूंद को तरसे लोग, टैंकरों से दिया पानी

खरड़ के नूर विला-1 में पानी की सप्लाई ठप होने से बूंद-बूंद को तरसे लोग, टैंकरों से दिया पानी

खरड़ के वार्ड नं 3 में स्थित नूर विला-1 के करीब 70 फ्लैटों में पेयजलापूर्ति प्रभावित होने के कारण यहां के लोग...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 02, 2018, 02:05 AM IST

खरड़ के नूर विला-1 में पानी की सप्लाई ठप होने से बूंद-बूंद को तरसे लोग, टैंकरों से दिया पानी
खरड़ के वार्ड नं 3 में स्थित नूर विला-1 के करीब 70 फ्लैटों में पेयजलापूर्ति प्रभावित होने के कारण यहां के लोग बूंद-बूंद पानी को तरस रहे हैं। लेकिन, इनकी फरियाद सुनने वाला कोई भी नहीं है। हालांकि, स्थानीय पार्षद द्वारा क्षेत्र में निशुल्क पानी के टैंकर भेजने मंगलवार से ही शुरू किए गए हैं। लेकिन, महज 2 टैंकर के पानी से क्षेत्रवासियों की जरूरत को पूरा करने में मुश्किल ही हो रही है।

हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी गर्मियां शुरू होने के साथ ही उक्त काॅलोनी में पानी की समस्या पैदा हो गई। पिछले वर्ष जब इस काॅलोनी में पानी की समस्या हुई थी तो करीब तीन महीने इस काॅलोनी में टैंकरों से पानी की आपूर्ति हुई थी। तब सितंबर 2017 में स्थानीय पार्षद दर्शन सिंह शिवजोत का कहना था कि वार्ड नं 3 में नया ट्यूबवेल पास हो गया है। जिसके लिए जमीन खाेज रहे हैं। जल्द ही समस्या का समाधान हो जाएगा। लेकिन, उसके उपरांत सर्दियां आ गई व पानी की सप्लाई ठीक हो गई। लेकिन, 7 महीने बीत जाने के बाद भी पार्षद का जवाब है कि जल्द ही नया ट्यूबवेल लगने वाला है। जिसके लिए जमीन डिसाइड हो गई है।

खाली बाल्टियां लेकर टैंकर की इंतजार करते स्थानिय निवासी। साथ ही खाली पड़ा हुआ स्टोरेज टैंक का फोटो।

रोजाना 1 हजार लीटर पानी का दावा करने वाला बिल्डर फ्लैट बेचने के बाद है गायब... प्रति फ्लैट रोजाना 1 हजार लीटर पानी का दावा करने वाला बिल्डर फ्लैट बेचने के बाद कभी नजर ही नहीं आया। अब यह लोग पानी की गंभीर समस्या से जूझ रहे हैं, हर साल गर्मियों इनकी सोसायटी में पानी नहीं आता है। इन्हें स्थानीय एमसी द्वारा बार बार फोन किए जाने के बाद टैंकर से पानी की सप्लाई की जाती है। पिछले चार दिन से सोसायटी में एक बूंद भी पानी नहीं था। मंगलवार को एमसी ने दो टैंकर पानी भिजवाए हैं, एक टैंकर में करीब 3000 लीटर पानी ही होता है। दो टैंकर उक्त सोसायटी की जरूरत पूरी नहीं कर पा रहे हैं। यह दो टैंकर का पानी मात्र 20 मिनट में ही समाप्त हो जाता है। इन्होंने मांग की है कि इनकी सोसायटी को जल्द से जल्द नए ट्यूबवेल से जोड़कर नए सिरे से पाइपलाइन बिछाई जाए, ताकि इन्हें भविष्य में दिक्कत ना हो।

यह कहते हैं पार्षद...वार्ड के एमसी दर्शन सिंह शिवजोत ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से पानी की समस्या आई है। इन्हें जब सूचना मिली तो इनके द्वारा मंगलवार सुबह तुरंत पानी के टैंकर भेजे गए। अगर इससे भी पानी की जरूरत पूरी नहीं हुई तो वह शाम के समय भी टैंकर भेजेंगे। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में समस्या गंभीर है। जिसके चलते हाल ही में उन्होंने काउंसिल प्रधान से बात की है। जल्द ही ट्यूबवेल का काम शुरू करवाने की अपील की गई है। उन्होंने कहा कि ट्यूबवेल के लिए जमीन तलाश ली गई है व काउंसिल प्रधान काे उक्त समस्या के बारे में बताया गया है। जल्द ही काम शुरू हो जाएगा, जिससे ट्यूबवेल से क्षेत्र की समस्या समाप्त हो जाएगी।

सोसायटी में रहते हैं 60 परिवार, ज्यादा खपत के चलते हो रही दिक्कत... उक्त सोसायटी में करीब 60 परिवार रह रहे हैं। जबकि, यहां भारी संख्या में स्टूडेंट्स भी किराए के फ्लैट्स में रह रहे हैं। स्थानीय निवासी परविंदर सिंह, अमृतपाल सिंह, राज कालड़ा, हितेश, अमन, कुलविंदर कौर, सुरिंदर कौर, सुबीर अरोड़ा, निधि, निशा, पूनम, शशी बाला व अन्यों ने बताया कि करीब 11 साल पूर्व एक बिल्डर ने एक सोसायटी विकसित की थी। जिसके द्वारा 24-24 फ्लैट के तीन ब्लॉक बनाए गए थे। हर ब्लॉक के लिए एक भूमिगत वाटर स्टोरेज टैंक स्थापित किए गए थे। जिस एक टैंक की क्षमता करीब 24 हजार लीटर की है। उस समय उन्हें यह पता नहीं चला कि उक्त सोसायटी में ट्यूबवेल ही नहीं है। पानी नगर कांउसिल द्वारा सप्लाई की जा रहा है, जिसका प्रेशर इतना कम है कि यह टैंक कभी भरे ही नहीं होते।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kharar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×