पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • खंड बारिश के कारण जलाशयों में 40 से 50% पानी का भराव

खंड बारिश के कारण जलाशयों में 40 से 50% पानी का भराव

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
खंड वर्षा के कारण जिले के 51 जलाशयों में पानी का भराव कम है। पाली के धौराभांठा व पोड़ी-उपरोड़ा के मड़वाढोढा ही मात्र दो जलाशय हैं। जिनमें पूरा भराव है। अपूर्ण भराव वाले जलाशयों में 5 ऐसे हैं जिसमें 10 फीसदी से कम भराव है। सीपेज की वजह से कम भराव क्षमता वाले जलाशय में वर्षों से मेंटेनेंस नहीं कराए जाने से किसानों को सिंचाई के लिए पानी की समस्या से जूझना पड़ेगा। सिंचाई विभाग इन जलाशयों की मरम्मत के लिए कार्ययोजना बना रहा है। जिले के किसानों को सिंचाई सुविधा देने के लिए जल संसाधन विभाग की ओर से 51 जलाशय का निर्माण किया गया है। अधिकांश जलाशयों में आसपास जल स्त्रोत नहीं होने से भराव का असर हुआ है। सेमीपाली गोपालपुर, भैसामुड़ा, भलपहरी, जमनीमुड़ा ऐसे जलाशय हैं। जहां पानी का भराव 10 प्रतिशत से कम है।

कुछ ऐसे भी जलाशय हैं। जिसमें भराव 20 से 50 प्रतिशत है। इन जलाशयों में कोरबा के बेला, बताती, पोड़ी-उपरोड़ा के मलदा, कटघोरा के अरदा, झोंकानाला पाली का लाफा, मानिकपुर शामिल है। पोड़ी उपरोड़ा के जलाशयों में औसतन 64 प्रतिशत पानी का भराव है। इसके विपरीत सबसे अधिक 29 जलाशय पाली ब्लॉक में हैं। जहां औसत भराव 29 प्रतिशत है।

खबरें और भी हैं...