पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • सिलाई भुगतान के लिए सड़क पर उतरेंगी महिलाएं

सिलाई भुगतान के लिए सड़क पर उतरेंगी महिलाएं

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर संवाददाता|मनेंद्रगढ़

स्कूली बच्चों के गणवेश सिलाई का लाखों रुपए भुगतान नहीं होने पर स्वसहायता समूह की महिलाओं ने जिला शिक्षाधिकारी कार्यालय का घेराव किए जाने की चेतावनी दी है।

शिक्षा विभाग में सत्र 2016-17 का गणवेश सिलाई का कार्य किया गया है जिसका बिल पहनावा गारमेंट्स उद्योग बैकुंठपुर का 10 लाख 53 हजार 440 रुपए, परिधान गारमेंट्स मनेंद्रगढ़ का 3 लाख 88 हजार 300 रुपए, श्री हरि महिला स्वसहायता समूह मनेंद्रगढ़ का 3 लाख 15 हजार एवं कोरिया महिला गृह उद्योग जनकपुर का 9 लाख रुपए कुल 26 लाख 56 हजार 740 रुपए बकाया है जिसका भुगतान अभी तक नहीं किया गया है। स्वसहायता समूह की महिलाओं ने कहा कि इस संबंध में जिला शिक्षाधिकारी, कलेक्टर एवं जनदर्शन में कई बार शिकायत की गई, लेकिन समस्या का समाधान नहीं किया गया। भुगतान नहीं होने की वजह से महिलाओं की आर्थिक स्थिति खराब हो चुकी है। सिलाई भुगतान के लिए स्वसहायता समूह की महिलाओं ने सड़क पर उतरने की पूरी तैयारी कर ली है। चारों स्वसहायता समूह ने कहा कि आगामी 11 अप्रैल तक भुगतान नहीं होने पर उनके द्वारा 12 अप्रैल को जिला शिक्षाधिकारी कार्यालय का घेराव किया जाएगा। महिला बाल विकास विभाग के द्वारा आईएपी मद से सभी समूहों को नि:शुल्क सिलाई मशीन दी गई थी। पूरे जिले में चारों समूह की करीब 11 सौ महिलाओं के हाथों को काम मिला था।

11 अप्रैल तक भुगतान नहीं हुआ तो महिलाएं 12 अप्रैल को जिला शिक्षाधिकारी कार्यालय का करेंगी घेराव
स्व सहायता समूह की महिलाओं ने सिली थी स्कूली बच्चों के लिए ड्रेस।

रुपए की कमी से समूह का कार्य पड़ा है ठप
गणवेश सिलाई का कार्य हाथ में लेने वाले स्वसहायता समूहों ने बताया कि शर्ट की सिलाई पर उन्हें 15 रूपए मिलते हैं। इसी प्रकार पैंट के 28 रूपए व स्कर्ट के 13 रूपए दिए जाते हैं जबकि स्वसहायता समूह की महिलाएं जो गणवेश सिलाई का कार्य कर रही हैं उन्हें शर्ट की बनवाई 8 रूपए, पैंट 13 व स्कर्ट के 6 रूपए देने पड़ते हैं। इसके अलावा फिनिशिंग, बिजली खर्च, ट्रांसपोर्टिंग आदि सभी खर्च वहन करने पड़ते हैं जिसकी वजह से गणवेश सिलाई का कार्य करने वाली जिले की चार स्वसहायता समूह ठप पड़ गई है।

खबरें और भी हैं...