पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • निगम का दावा रोज पकड़ रहे मवेशी, इधर सांड ने बुजुर्ग को पटका, हाथ टूटा

निगम का दावा-रोज पकड़ रहे मवेशी, इधर सांड ने बुजुर्ग को पटका, हाथ टूटा

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
निगम आवारा मवेशियों पर लगाम नहीं लगा पा रहा और शहर के सांड अब हिंसक होते जा रहे हैं। सोमवार को एक सांड ने एक बुजुर्ग को उठाकर ऐसा पटका की उनका हाथ फ्रैक्चर हो गया। वो बाल-बाल बचे, लेकिन मंगलवार को उनके हाथ का ऑपरेशन करना पड़ा।

राजू वाजपेयी ने बताया कि उनके रिश्तेदार 65 वर्षिय रवि कृष्ण चतुर्वेदी विवेकानंद नगर में रहते हैं, जो आरएसीबी डिपार्टमेंट से रिटायर्ड हैं। वो सोमवार शाम घर के बाहर टहल रहे थे और उसी समय एक सांड अचानक पीछे से आया और उन्हें दो बार उठाकर पटका। वो जोरों से चिल्लाए तो मकानों में रहने वाले लोगों ने उन्हें देखा और सांड को भगाया, जिससे उन्हें बमुश्किल बचाया जा सका। सांड उन्हें पैरों तले कुचलने के लिए आ रहा था। उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां उनका उपचार चल रहा है। डॉक्टरों ने उनके बाएं हाथ में फ्रैक्चर बताया, मंगलवार को उनका ऑपरेशन किया गया।

पहले भी शहर में हो चुके हैं कई हादसे, मौतें

सड़क पर घूमने वाले आवारा पशुओं की वजह से आए दिन लोगों की जान पर बन रही है। हकीकत ये है कि शहर में पिछले 3 वर्षों में आवारा पशु 22 लोगों की जान ले चुके हैं। इसके अलावा 100 से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हो चुके हैं। हर हादसे के बाद नगर निगम दावा करता है कि आवारा पशुओं की समस्या से शहर काे मुक्ति मिल जाएगी। हालांकि आवारा पशुओं का आतंक 2018 में कम नहीं हुआ। पिछले 6 माह के दौरान शहर में 6 से अधिक हादसे हो चुके हैं, जिसमें कई लोगों को जान भी जा चुकी है। यहां तक कि अधिकारियों ने इस मामले में सरकार को भी गुमराह कर दिया। विधान सभा सत्र के जवाब में सरकार ने विधान

31 हिंसक सांड पकड़े

नगर निगम ने मंगलवार को 31 सांडों को पकड़ा। आयुक्त जुगल किशोर मीना ने बताया कि निगम के दस्ते ने महावीर नगर व श्रीनाथपुरम क्षेत्र में 31 सांडों को पकड़ा। उन्होंने बताया कि जिन मवेशियों को सड़कों व सार्वजनिक स्थानों से घूमते हुए पकड़ा जाएगा, उन्हें पशु पालकों का ना मानकर हिंसक व घुमंतु मवेशी माना जाएगा और उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा। जो मवेशी छुड़ाने आएगा, उसके विरुद्ध भी निगम द्वारा सख्त कार्रवाई की जाएगी। साथ ही सड़क किनारे चारा बेचने वालों का चारा जब्त करने की कार्रवाई भी निगम द्वारा की जाएगी। मीना ने स्पष्ट किया कि बड़ी तादात में पशु नजदीकी ग्रामीण क्षेत्रों से कोटा शहर की सीमा में प्रवेश कर रहे हैं। उन्हें भी अभियान के रूप में पकड़ने की कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...