पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • कोटा सहित देशभर के स्टेशन मास्टर 11 को भूखे रहकर करेंगे काम

कोटा सहित देशभर के स्टेशन मास्टर 11 को भूखे रहकर करेंगे काम

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कोटा | कोटा रेल मंडल सहित देशभर के स्टेशन मास्टर अपनी मांगों को लेकर 11 अगस्त को भूखे रहकर काम करेंगे। ऐसा करके वह अपनी मांगों की ओर रेल मंत्रालय का ध्यान दिलाना चाहते हैं। स्टेशन मास्टर पिछले लंबे समय से वित्तीय पदोन्नति, 12 के स्थान पर कार्य के घंटे 8 किए जाने की सहित अन्य मांग कर रहे हैं।

पश्चिम मध्य रेलवे के कोटा सहित तीनों मंडलों में इस कार्यक्रम को लेकर आए दिन स्टेशन मास्टर्स की मीटिंग हो रही है। ऑल इंडिया रेलवे स्टेशन मास्टर्स एसोसिएशन की कोटा मंडल शाखा के सचिव राजेन्द्र मीणा ने बताया कि कोटा रेल मंडल के 530 स्टेशन मास्टर आंदोलन में शामिल होंगे। इसमें कोटा रेलवे स्टेशन के लगभग 35 स्टेशन मास्टर भी शामिल होंगे। उन्होंने बताया कि स्टेशन मास्टर की ट्रेन संचालन में महत्वपूर्ण भूमिका होती है। इसके बावजूद रेलवे उनकी मांगों की तरफ कोई ध्यान नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि कई छोटे रेलवे स्टेशनों के आसपास मेडिकल या शैक्षणिक सुविधाएं नहीं हैं। वहां तैनात स्टेशन मास्टर्स के परिवार के लिए नजदीकी शहर में आवास की व्यवस्था की जाए।

ये हैं मांग- एमएसीपी से मिलने वाला तीसरा प्रमोशन ग्रेड पे 5400 दिया जाए। देशभर में कई ऐसे स्टेशन हैं जहां स्टेशन मास्टरों को हर रोज 12 घंटे ड्यूटी करना पड़ता है, ऐसे ड्यूटी रोस्टर को तत्काल रद्द किया जाए। स्टेशन मास्टर ट्रेनों को चलाने का काम करते हैं। इस दौरान तनाव का सामना भी करना पड़ता है। स्टेशन पर रेस्ट रूम की व्यवस्था की जाए। बिजी व सेन्ट्रल पैनल वाले स्टेशनों पर एक के स्थान पर दो स्टेशन मास्टर लगाए जाएं। स्टेशन मास्टरों की पूरी संख्या में से 15 प्रतिशत पद राजपत्रित स्टेशन मास्टर के रूप में सृजित किए जाएं। स्टेशन डायरेक्टर का पद अनुभवी व सीनियर स्टेशन मास्टरों को दिया जाए। एनपीएस के स्थान पर पुरानी पेंशन योजना लागू की जाए।

खबरें और भी हैं...