Hindi News »Chandigarh Zilla »Mohali »Kurali» आईटी सिटी में सिर्फ एक कंपनी ने निर्माण शुरू किया, िबना परमिशन तीन ठेके पहले खुले

आईटी सिटी में सिर्फ एक कंपनी ने निर्माण शुरू किया, िबना परमिशन तीन ठेके पहले खुले

आईटी सिटी के 6 किलोमीटर लंबे रोड पर ख्ुले हैं शराब के तीन ठेके। दो ठेके एयरपोर्ट की ओर जाने वाले हिस्से में और एक...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 23, 2018, 02:05 AM IST

  • आईटी सिटी में सिर्फ एक कंपनी ने निर्माण शुरू किया, िबना परमिशन तीन ठेके पहले खुले
    +4और स्लाइड देखें
    आईटी सिटी के 6 किलोमीटर लंबे रोड पर ख्ुले हैं शराब के तीन ठेके। दो ठेके एयरपोर्ट की ओर जाने वाले हिस्से में और एक एयरपोर्ट से अाने वाले हिस्से में खोला गया है।

    मनोज जोशी | मोहाली

    कांग्रेस सरकार बनने के बाद भले ही आईटी सिटी में कोई बड़ी कंपनी न आई हो, लेकिन इस एरिया में तीन शराब के ठेके जरूर खुल गए हैं। जहां एक तरफ कैप्टन अमरिंदर सिंह मिशन तंदरुस्त पंजाब को लाॅन्च कर रहे हैं। वहीं आईटी सिटी एरिया में खुले शराब के ठेके इस मिशन पर सवालिया निशान लगा रहे हैं। करीब 6 किलोमीटर लंबे आईटी सिटी रोड पर तीन शराब के ठेके खोल दिए गए हैं। हालांकि आईटी सिटी में सिर्फ एक बड़ी कंपनी ने अपने दफ्तर का निर्माण शुरू किया है। करीब तीन छोटी कंपनियां काम शुरू करने की तैयारी में हैं। एरिया में शराब के 3 ठेके खोलने के लिए गमाडा ने कोई परमिशन नहीं दी है।

    6 किलोमीटर रोड पर खुले शराब के तीनों ठेके

    गमाडा ने करीब 100 करोड़ रुपए की लागत से आईटी सिटी का 6 किलोमीटर लंबा रोड तैयार किया है, जो एयरपोर्ट चौराहे से लेकर लांडरां-बनूड मार्ग से जुड़ता है। इस मार्ग के एयरपोर्ट की ओर से जाने वाले हिस्से में दो शराब के ठेके खोले गए हैं, जबकि आने वाले रोड पर एक शराब का ठेका खोला गया है।

    गांवों के लिए मंजूर हुए ठेके आईटी सिटी रोड पर पहुंचे... जो ठेके यहां खोले गए हैं, वो सभी ठेके ग्रामीण सर्किल के तौर पर मंजूर हुए हैं। सूत्रों के अनुसार इन्हें ग्रामीण क्षेत्र में पहले की तरह खोलने की जगह आईटी सिटी रोड से जुड़ने वाली उसी गंाव की जमीन पर खोल दिया गया है, ताकि आईटी सिटी रोड से गुजरने वाले वाहन चालकों को ठेकों की ओर आकर्षित किया जा सके।

    बाहरी कंपनियों पर ठेकों का पड़ेगा बुरा असर... आईटी सिटी में गमाडा की ओर से बड़ी कंपनियों को आकर्षित करने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं और उन्हें आईटी सिटी की लेाकेशन भी दिखाई जाती है। ऐसे में एक के बाद एक तीन शराब के ठेके कंपनी और लेागों के आने से पहले ही खोल दिया जाना आईटी सिटी की छवि को धूमिल करेगा।

    इंफोसिस ने बनाई इमारत, कुल चार कंपनियों ने शुरू किया काम... आईटी सिटी में फिलहाल चार कंपनियों ने निर्माण कार्य शुरू किया है। इनमें से इंफोसिस ने अपनी चार दीवारी कर कुछ काम भी शुरू कर दिया है। जबकि बाकी तीन कंपनियां निर्माण कार्य में जुटी हुई हैं। ऐसे में यह सवाल खड़ा होता है कि आईटी सिटी में कपंनियां तो चार आई हैं, लेकिन शराब के ठेके तीन खोल दिए गए हैं।

    शराब के ठेके आईटी सिटी रोड पर कैसे खुले हैं, इसकी कोई परमिशन गमाडा की ओर दी गई है या नहीं, इसका पता लगाकर इन्हें हटाया जाएगा।

    -रवि भगत, सीए पूडा

    आईटी सिटी एरिया में जो तीन शराब के ठेके खोले गए हैं, उसके बारे में पता लगाया जाएगा। करीब 6 किलोमीटर के एरिया में तीन ठेके कैसे आए, इसकी भी रिपोर्ट मांगी जाएगी।

    -परमजीत सिंह, एईटीसी मोहाली

    मामी को चाकू मारकर नकदी लूटने वाले ने दोस्त को 20% हिस्से का दिया था लालच

    दो दिन का रिमांड खत्म होने पर कोर्ट ने भेजा जेल

    सिटी रिपोर्टर | कुराली

    सिंहपुरा रोड पर रहने वाले अपने ननिहाल परिवार को लूटने की नीयत से मामी को जख्मी करने वाले हर्षदीप बंसल को दो दिन का िरमांड खत्म होने पर शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया गया। वहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। उसके फरार साथी की तलाश की जा रही है। आरोपी ने पुलिस रिमांड के दौरान बताया कि उसकी आर्थिक हालत काफी खराब चल रही थी, जिस कारण उसने अपने दोस्त से मिलकर अपने ननिहाल परिवार को लूटने की योजना बनाई। हर्षदीप ने बताया कि उसका लुधियाना में कबाड़ का बहुत अच्छा काम था, लेकिन समय के साथ कारोबार बुरी तरह फेल हो गया और उसको अपना घर व अन्य संपत्ति को बेचना पड़ गया। इसी दौरान वह अपने ससुर परिवार में आकर गांव भामिया रहने लगा। कर्जे के भार के कारण परेशान वह इस भार से मुक्त होना चाहता था, इसलिए ही उसने लुधियाना में ही अपने घर के सामने रहने वाले राजा यादव उर्फ गोलू के साथ मिलकर मामा के घर में चोरी करने की योजना बनाई। दोनों में तय हुआ कि चोरी किए सामान में से 20 फीसदी हिस्सा गोलू का और बाकी 80 फीसदी हिस्सा हर्षदीप का होगा। दोनों अल्टो कार में सवार होकर कुराली आए और मामी को बातों में उलझा कर घर में चोरी करने लगे। इसी दौरान जब मामी ने विरोध किया तो उन्होंने रसोई में से चाकू लेकर मामी की गर्दन पर वार कर दिए, जिस कारण काबू आए आरोपी की मामी गंभीर रूप में जख्मी हालता में पीजीआई में उपचाराधीन है।

    पुलिस ने काबू किए हर्षदीप से पूछताछ के दौरान मामी को घायल करने के लिए प्रयोग किए चाकू को भी बरामद कर लिया है, जबकि घटना को अंजाम देने के लिए प्रयोग की कार, घर में से उठाई नकदी और गहनों सहित दूसरा अारोपी अभी फरार है।

    एसएचओ सिटी हिम्मत सिंह ने बताया कि मामले में नामजद किए गए दूसरे आरोपी गोलू को काबू करने के लिए छापेमारी की जा रही है। उन्होंने कहा कि उसको भी जल्दी ही काबू कर लिया जाएगा।

    हर्षदीप बंसल

    अरुणा (मामी)

  • आईटी सिटी में सिर्फ एक कंपनी ने निर्माण शुरू किया, िबना परमिशन तीन ठेके पहले खुले
    +4और स्लाइड देखें
  • आईटी सिटी में सिर्फ एक कंपनी ने निर्माण शुरू किया, िबना परमिशन तीन ठेके पहले खुले
    +4और स्लाइड देखें
  • आईटी सिटी में सिर्फ एक कंपनी ने निर्माण शुरू किया, िबना परमिशन तीन ठेके पहले खुले
    +4और स्लाइड देखें
  • आईटी सिटी में सिर्फ एक कंपनी ने निर्माण शुरू किया, िबना परमिशन तीन ठेके पहले खुले
    +4और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kurali

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×