Hindi News »Chandigarh Zilla »Mohali »Kurali» कुराली में बारिश का पानी भरने से रेलवे ट्रैक के नीचे की मिट्टी धंसी

कुराली में बारिश का पानी भरने से रेलवे ट्रैक के नीचे की मिट्टी धंसी

कुराली में रेलवे ट्रैक के धंसे हिस्से में मरम्मत में लगे कर्मचारी। सिटी रिपोर्टर | कुराली स्थानीय डेरा बाबा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 11, 2018, 03:05 AM IST

कुराली में बारिश का पानी भरने से रेलवे ट्रैक के नीचे की मिट्टी धंसी
कुराली में रेलवे ट्रैक के धंसे हिस्से में मरम्मत में लगे कर्मचारी।

सिटी रिपोर्टर | कुराली

स्थानीय डेरा बाबा गोसाईं आणा के समीप बन रहे अंडर ब्रिज के नजदीक रेलवे ट्रैक की एक लाइन के नीचे की मिट्टी धंस गई। रेलवे विभाग की चौकसी के कारण रेलवे लाइन पर गंभीर हादसा होने से बचाव हो गया। शहर के अनाज मंडी को जोड़ने वाली रेलवे रोड़ पर बन रहे रेलवे अंडर ब्रिज के निर्माण के लिए कुछ समय पहले ही रेलवे द्वारा धरती की खुदाई की गई थी।

अंडर ब्रिज बनाने के लिए की गई खुदाई के बाद सिमेंट की तैयार की हुई स्लैब फिट करने के उपरांत की खुदाई के शेष हिस्से में मिट्टी डाली गई थी। लेकिन, इसके बावजूद शहर में से गुजरती तीन रेलवे लाइनों (ट्रैक) में से एक लाईन के नीचे डाली गई मिट्टी धंस गई और रेलवे लाइन हवा में खड़ी रह गई। मौके से प्राप्त जानकारी के अनुसार शहर की खुशी राम कॉलोनी में निर्माण के अधीन पुल के समीप पानी जमा होने के कारण और कई दिन पड़ी तेज बारिश से मिट्टी धंस गई तथा रेलवे लाइन हवा में ही रह गई।

रेलवे लाइन के नीचे से मिट्टी खिसकने के कारण कोई गंभीर हादसा होने से पहले ही चौकस हुए रेलवे विभाग ने इस संबंध में रूपनगर और मोरिंडा स्टेशनों के अधिकारियों को सूचित करने के अतिरिक्त इस संबंधी उच्च अधिकारियों को भी सूचित कर दिया गया है।

इसी दौरान मिट्टी धंसने के कारण नुकसान हुए ट्रैक की रेलवे लाइन को बंद कर दिया गया। रेलवे विभाग द्वारा कई घंटों की कड़ी मेहनत के बाद ट्रैक के नीचे दोबारा से मिट्टी डाल कर थैले लगाए गए। ताकि, दोबारा से मिट्टी ना खिसके तथा ना ही ट्रैक धंसे। इस संबंधी अंडर ब्रिज निर्माण कर रही कंपनी के अधिकारी ओंकार सिंह ने कहा कि मिट्टी धंसने संबंधी पता चलने पर तुरंत मौका संभाल लिया गया।

इसी दौरान स्थानीय स्टेशन मास्टर मनोज कुमार ने बताया कि सूचना मिलते ही उन्होंने भी जरूरी प्रबंध कर लिए गए। ताकि, कोई हादसा ना हो सके। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के हादसों को ध्यान में रखते हुए ही विभाग की ओर से नव निर्माण होने वाले अंडर ब्रिजों पर विशेष कर्मचारी तैनात किए गए हैं। उन्होंने कहा कि शहर में इस उद्देश्य के लिए तैनात कर्मचारी की चौकसी के कारण ही हादसा होने से टल गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kurali

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×