पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Ludhiana
  • चतर सिंह पार्क में नहीं बनेगा कूड़े का डंप, नई जगह तलाशेगा निगम

चतर सिंह पार्क में नहीं बनेगा कूड़े का डंप, नई जगह तलाशेगा निगम

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
इलाके के लोगों के साथ मीटिंग में जॉइंट कमिश्नर ने दिया भरोसा

सिटी रिपोर्टर | लुधियाना

बस स्टैंड के नजदीक चतर सिंह पार्क में कूड़े का डंप नहीं बनेगा। इसके लिए निगम नई जगह की तलाश करेगा। यह भरोसा जॉइंट कमिश्नर पूनमप्रीत कौर ने इलाके के लोगों को दिया। चतर सिंह पार्क में कूड़े का डंप बनाने के खिलाफ बच्चों समेत प्रदर्शन कर रहे गुरपाल गरेवाल की अगुवाई में इलाके के लोग और एनजीअो मेंबर उनसे मिले थे।

गुरपाल गरेवाल ने बताया कि जॉइंट कमिश्नर ने भरोसा दिया कि कूड़ा डंप बनाने का काम रोक दिया है। जल्द नई जगह तलाश कर वहां शिफ्ट कर दिया जाएगा। इसके लिए उन्होंने दो दिन का टाइम लिया है। वहीं गरेवाल ने इस पार्क को मेंटेंन करने की भी मांग की। इस पर भी जॉइंट कमिश्नर ने सहमति जताई। बता दें कि गिल फ्लाईओवर का एक हिस्सा गिरने के बाद जांच में पता चला कि उसके नीचे बने कूड़े के डंप में पैदा हुए चूहों की वजह से यह घटना हुई। इसके बाद सभी फ्लाईओवरों से कूड़े के डंप हटाए गए। बस स्टैंड फ्लाईओवर के नीचे बने कूड़े के डंप को हटा पार्क में बना दिया गया। इसका पता चलते ही पार्क में खेल-कूदकर बड़े हुए समाज सेवी गुरपाल गरेवाल ने एक महीने से इसके विरोध में प्रदर्शन जारी रखा और इसकी शिकायत भी निगम से की। इसके बाद यह मीटिंग हुई। इस मौके पर उनके साथ राहुल वर्मा, सतपाल सिंह, नरिंदर मसौन, गुरमोहन नारंग, डॉ. एपीएस मान, डॉ. एसबी पांधी, रजनीश धवन, डॉ. नीरज सतीजा, अमनदीप सिंह राणा, बंटी, मोहन लाल, प्रिंस मेहता आदि मौजूद थे।

चतर सिंह पार्क में कूड़े का डंप बनाने के खिलाफ बच्चों समेत प्रदर्शन कर रहे गुरपाल गरेवाल को मिली सफलता

जॉइंट कमिश्नर से मुलाकात के बाद मुद्दे पर चर्चा करते लोग। फोटो : भास्कर

जगराओं पुल इंक्रोचमेंट का मलबा उठाने को लेकर टालमटोल, अब दिया मौसम साफ होने का बहाना

लुधियाना| जगराओं पुल की इंक्रोचमेंट तोड़ने की कार्रवाई को लगभग दो महीने होने वाले हैं, लेकिन अभी तक मलबा नहीं उठ सका है। इस बारे में डीसी की मीटिंग में निगम ने रेलवे पर जिम्मेदारी डाली थी, लेकिन रेलवे ने कोई कार्रवाई नहीं की। मंगलवार को वाॅर्ड कौंसलर राकेश पराशर फिर मेयर बलकार संधू से मिले और जगराओं पुल का काम लेट होने की दुहाई देते हुए जल्द मलबा उठाने की मांग की। मेयर ने इस बारे में एसई धर्म सिंह को निर्देश दिए कि निगम खुद अपने टिप्पर-जेसीबी लगा मलबे को हटाए। इसके लिए एसई ने दो दिन का टाइम मांगा है, ताकि मौसम खुलते ही मलबा हटा दिया जाए। वैसे पहले दो ठेकेदारों से निगम ने मुफ्त में मलबा उठाने की तैयारी की थी, लेकिन मलबे में ईंटें न होने से ठेकेदारों ने हाथ खड़े कर दिए कि उनको इससे कुछ नहीं मिलेगा।

कमिश्नर ने दिए पेड़ काटने की जांच के आदेश

चतर सिंह पार्क में कूड़े का डंप बनाने के लिए रातोंरात कुछ पेड़ काटने के मामले का निगम कमिश्नर कंवलप्रीत बराड़ ने कड़ा संज्ञान लिया है। इसके बाद उन्होंने हॉर्टिकल्चर विंग का चार्ज देख रहे एक्सईएन राहुल गगनेजा को इस मामले की जांच कर रिपोर्ट देने को कहा है। निगम के अफसर वहां एक और बड़ा पेड़ काटने की तैयारी में थे।

खबरें और भी हैं...