पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • पूर्वमंत्री ने सुनी ग्रामीणों की समस्याएं

पूर्वमंत्री ने सुनी ग्रामीणों की समस्याएं

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
चना खरीद को लेकर सरकार किसानों को गुमराह कर रही है। एक सप्ताह से रामगंजमंडी में समर्थन मूल्य का चना तोल कांटा बंद होने से किसान परेशान हो रहे हैं। अगर समय रहते फसल का निदान नहीं हुआ तो किसान अपने बेटे-बेटियों का विवाह कैसे करेंगे। यह बात पूर्व मंत्री रामगोपाल बैरवा ने शुक्रवार को क्षेत्र के दौरे पर कही।

बैरवा ने क्षेत्र के गावों का दौरा कर लोगों की समस्याएं सुनी। उन्होंने मोड़क गांव, खैराबाद, रावली, किशोरपुरा, मण्डा, मण्डली, सनखेड़ा, मुंडिया, भावपुरा, नियामतखेड़ी, धरनावद, सातलखेड़ी, जुल्मी सहित कई गांवों का दौरा किया। मुंडिया व सनखेड़ा में पचपहाड़ पेयजल योजना का पानी नहीं पहुंचने की समस्या से ग्रामीणों ने अवगत कराया। धरनावद के लोगों ने मध्यप्रदेश रेवा बांध की नहर से क्षेत्र से लगी पंचायतों में भी सिंचाई का पानी पहुंचाने की मांग की। सभी गावों में पटवारियों द्वारा समय पर नकल नहीं देने व रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद भी चना तोल नहीं होने की किसानो ने समस्या बताई। बैरवा ने मौके से ही समन्धित अधिकारियों से बात कर समस्याओं के समाधान का भरोसा दिलाया। इस अवसर पर उप प्रधान मोतीलाल अहीर, पूर्व उप प्रधान राजेन्द्रसिंह सिसोदिया, श्यामलाल आचार्य, पार्षद कमल गुर्जर, मुकेश मीना, किसान नेता कैलाश अहीर, कालू मेघवाल, मोहन मीना, चिरोंजीलाल बैरवा, जिला परिषद सदस्य हेमलता बैरवा समेत अनेक ग्रामीण व कार्यकर्ता साथ थे।

मोड़क स्टेशन. पूर्व मंत्री जनसुनवाई करते हुए।

खबरें और भी हैं...