--Advertisement--

आटा दाल स्कीम के कार्ड दोबारा बनवाने की मांग

भास्कर संवाददाता | चमकौर साहिब बहुजन समाज पार्टी के पंजाब महासचिव राजिंदर सिंह राजा ननहेड़िया की अध्यक्षता में...

Danik Bhaskar | May 02, 2018, 02:05 AM IST
भास्कर संवाददाता | चमकौर साहिब

बहुजन समाज पार्टी के पंजाब महासचिव राजिंदर सिंह राजा ननहेड़िया की अध्यक्षता में पंजाब सरकार के नाम एसडीएम डॉ. रुही दुग को मांगपत्र दिया गया। पार्टी वर्करों ने मांग की कि जिन गरीब लोगों के अाटा दाल स्कीम के कार्ड काटे गए है, वह दोबारा बनाए जाए। शगुन स्कीमों के पैसे जल्द दिए जाए, बिजली के बिलों में बढ़ोतरी वापस ली जाए, बुढ़ापा पेंशनरों की हुई कटौती वापस ली जाए।

बेरोजगारों को वादे के मुताबिक नौकरियां दी जाए और जिन किसानों की गेहूं आग की भेंट चढ़ी, उनका बनता मुआवजा दिया जाए। ननहेड़िया ने कहा कि ब्लाक चमकौर साहिब के कई गांव ऐसे है, जिनमें बड़े स्तर पर आटा-दाल स्कीम कार्ड काटे गए हैं। इस संबंधी कई बार प्रशासन व सरकारी दफ्तरों में बताया जा चुका है लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। मांग पत्र में उन किसानों के नाम भी दर्ज किए हैं, जिनकी गेहूं आग लगने के साथ सड़ गई है।

इस मौके पर पार्टी के हलका अध्यक्ष गुरप्रीत सिंह भुरड़े, नरिंदर सिंह बड़वाली, सुरजीत सिंह लखेवाल, दर्शन सिंह मोरिंडा, केसर सिंह, सुखविंदर सिंह, गुरनाम सिंह, हरमेश सिंह, गुरदीप सिंह, बूटा सिंह, गुरप्रीत सिंह आदि शामिल थे।

एसडीएम के रवैये पर रोष जताते बसपा नेता और वर्कर।

बपसा नेताओं ने एसडीएम को बदलने की मांग की

बसपा पंजाब के राजिंदर सिंह राजा ने बताया कि जब वे एसडीएम को मांगपत्र देने गए तो उन्होंने मांगपत्र लेने से इंकार कर दिया। उन्होंने कहा कि मांगपत्र देने वालों में कई बुजुर्ग भी थे। बसपा नेता ने कहा कि एसडीएम लोगों की समस्या सुनने की बजाए उनके साथ बुरा व्यवहार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगर इनको यहां से बदला नहीं गया तो पार्टी संघर्ष करेगी।