पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • सलमान की जमानत पर सुनवाई कर रहे जज का भी देर रात तबादला

सलमान की जमानत पर सुनवाई कर रहे जज का भी देर रात तबादला

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जोधपुर | कांकाणी हिरण शिकार मामले में अभिनेता सलमान खान की 5 साल की सजा निलंबन पर सुनवाई करने वाले जिला व सेशन न्यायाधीश ग्रामीण रविंद्र कुमार जोशी सहित 300 से ज्यादा न्यायिक अधिकारियों का शुक्रवार देर रात तबादला हो गया है। जज जोशी को जिला व सेशन न्यायाधीश सिरोही के पद पर लगाया है। उनकी जगह जिला व सेशन न्यायाधीश जोधपुर ग्रामीण के पद पर चंद्रकुमार सोनगरा को भीलवाड़ा से लगाया है। दूसरी ओर 5 अप्रैल को कांकाणी हिरण शिकार मामले में सलमान को 5 साल की सजा सुनाने वाले मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट देवकुमार खत्री को एपीओ (पदस्थापन की प्रतीक्षा में) रखा गया है, जबकि इनकी जगह पर समरेंद्र सिंह सिखरवार को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट जोधपुर जिला के पद पर लगाया गया है। राजस्थान हाईकोर्ट ने देर रात 300 से ज्यादा जजों के तबादलों की लिस्ट जारी की।

-राजस्थान पेज भी पढ़ें

रवींद्र कुमार जोशी

सलमान को सजा सुनाने वाले सीजेएम खत्री एपीओ

जोधपुर सेशन कोर्ट ग्रामीण के पद पर चंद्रकुमार को लगाया
सलमान को जमानत के लिए करना पड़ सकता है सोमवार तक का इंतजार
जज जोशी का तबादला होने पर सलमान की जमानत पर सुनवाई टलने की पूरी संभावना है, क्योंकि सामान्यतया जज का तबादला होने पर वे ऐसे मामलों की सुनवाई नहीं करते हैं।
सलमान के वकील का दावा
रवि पुजारी ने दी धमकी, एसएमएस किया- केस छोड़ दो, वरना मार देंगे
सलमान के वकील महेश बोड़ा को अंडर वर्ल्ड डॉन रवि पुजारी से धमकी मिलने का दावा किया है। बोड़ा ने बताया कि गुरुवार शाम को इंटरनेट कॉलिंग शुरू हुई। उन्होंने कॉल अटेंड नहीं किया। तो शुक्रवार सुबह तक 8 से 10 मैसेज मिल गए। रवि पुजारी के नाम से आए मैसेज में लिखा था ‘सलमान का केस छोड़ दो वरना मार देंगे’। उन्होंने पुलिस को इसकी शिकायत कर दी और मैसेज का ब्यौरा सौंप दिया।

अधिवक्ता हस्तीमल सारस्वत को भी 3 इंटरनेशनल कॉल्स आईं। उन्होंने जांचे तो वे पाकिस्तान के नंबर थे। सारस्वत ने बताया कि गत साल भी रवि पुजारी ने उन्हें धमकी दी थी।

सलमान को मुसलमान होने के कारण मिली इतनी कड़ी सजा : पाक विदेश मंत्री
इस्लामाबाद| सलमान खान की सजा पर टिप्पणी करते हुए पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने कहा है कि सलमान को अल्पसंख्यक होने के चलते पांच साल कैद की सजा दी गई है। अगर सलमान का संबंध सत्ताधारी दल से होता तो उन्हें कम सजा मिलती। एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि हो सकता है कि अगर सलमान सत्ताधारी दल से जुड़े होते तो उन्हें इतनी कड़ी सजा नहीं मिलती और कोर्ट उन्हें कम सजा सुनाती।

अगर जोशी सुनवाई से इंकार करते हैं तो सलमान के वकील डीजे कोर्ट ग्रामीण की लिंक कोर्ट एडीजे जोधपुर ग्रामीण में सुनवाई रेफर करने का आग्रह कर सकते हैं।
जेल में सलमान वीआईपी
दूसरे दिन भी न कैदियों की ड्रेस, न जेल का खाना, सलमान से नाराज आसाराम
सलमान जेल में वीआईपी की तरह ही रह रहे हैं। उन्हें जेल प्रशासन ने दूसरे दिन भी न तो कैदियों की ड्रेस पहनाई न ही जेल का कैदियों वाला खाना ही खिलाया। होटल से मंगवाया खाना खिलाया और पीने को ब्लैक कॉफी दी। रात में सलमान बार-बार सिगरेट फूंकते रहे। मच्छर काटने से नींद नहीं आई। फिर मच्छरों से बचने वाली ट्यूब लगाने के बाद सलमान को नींद आई, तो वे 10 बजे तक सोये रहे।

सलमान खान से मिलने और ऑटोग्राफ मांगने वालों का तांता लगा गया। जेलकर्मियों के परिचित बारी-बारी से सलमान से मिलने के लिए पहुंच रहे थे। उसके बैरक के पास बैठे आसाराम इस पर गुस्सा हो गए।

अगले दिन रविवार की छुट्टी होने की वजह से अब इस मामले में सोमवार को ही सुनवाई हो पाएगी।
खबरें और भी हैं...