पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • पुराने बोर को नया बता ठेकेदार ने निकाली राशि

पुराने बोर को नया बता ठेकेदार ने निकाली राशि

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नगर के वार्ड 4 और 5 में नलकूप खनन में गड़बड़ी के मामले में पिछले छह माह से केवल जांच ही चल रही है। कार्रवाई नहीं की जा रही है। इस मामले में सात स्थानों पर बोर करने के लिए निविदा निकाली गई थी। ठेका लेने वाले ने पांच बोर करने की बात कहकर भुगतान ले लिया। इसमें से दो स्थानों पर पुराने बोर को ही नया बोर बताकर रुपए लिए हैं। ठेकेदार और अफसरों की मिलीभगत यह सब हुआ है। प्रकरण सामने आने के बाद अफसर जांच कराने की बात कह रहे हैं कार्रवाई नहीं की गई है।

इस मामले में 10 मार्च 2017 को निविदा निकाली गई थी। हर नलकूप की लागत एक लाख रुपए थी। वर्क आर्डर 6 जुलाई 2017 को जारी किया। ठेकेदार ने पांच स्थानों पर बोर करना बताया और तीन बोर ही कराए हैं। भुगतान 7 बोर का कर दिया है। इस मामले में नगरीय प्रशासन के संचालक निरंजन दास ने कहा पुरानी जांच को स्थगित कर दिया है। नए सिरे से जांच कराएंगे। जो भी तथ्य आएंगे उसके आधार पर कार्रवाई करेंगे।

इन पुराने बोर को बताया नया बोर : वार्ड क्रमांक 5 डा रुप नारायण पचौरी के घर के पास एक बोर करना बताया है यह छह साल पुराना है। दूसरा बोर वार्ड क्रमांक 4 में गोठान के पास करना बताया है यह भी पुराना ही है। एक बोर के लिए 1,42285 रुपए और दूसरे के लिए 135170 रुपए का भुगतान किया है। इसका खुलासा आरटीआई के तहत दी गई जानकारी से हुआ। इस मामले की शिकायत पूर्व पार्षद विक्की खनुजा ने नगरीय प्रशासन के सचिव रोहित यादव और संयुक्त संचालक से 27 फरवरी 2018 को की।

वार्ड क्रमांक 4 में इसी पुराने बोर को नया बताकर भुगतान लिया गया।

लोगों ने अफसर को बताया कि बोर पुराना है

इस मामले के जांच अधिकारी क्रांति अशोक कुमार कार्यपालन अभियंता क्षेत्रीय कार्यालय रायपुर व एएन अयोध्या नियुक्त किए हैं। जांच के दौरान अधिकारियों ने भौतिक सत्यापन कर पंचनामा किया। इसमें लोगों ने 3 मई 2018 को बताया कि यह बोर पुराने हैं। नागरिकों ने स्पष्ट किया कि बोर पूर्व पार्षद विक्की खनुजा के समय का है। इसके बाद से अभी तक इस मामले की जांच ही चल रही है।

खबरें और भी हैं...