• Hindi News
  • National
  • लाभचंद और कमलादेवी का मरणोपरांत नेत्रदान

लाभचंद और कमलादेवी का मरणोपरांत नेत्रदान

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लाभचंद और कमलादेवी का मरणोपरांत नेत्रदान

पाली|
इंद्रा कॉलोनी निवासी लाभचंद और कमलादेवी की आंखों से नेत्रहीन बंधु दुनिया देख सकेंगे। इंद्रा कॉलोनी में रहने वाले 65वर्षीय लाभचंद व उनकी धर्मप|ी कमलादेवी की असामयिक मृत्यु होने के बाद सोमवार को सामाजिक कार्यकर्ता भंवरलाल सेमलानी, हितेष कर्नावट, दौलतराज डागा, आई बैंक सोसायटी आॅफ राजस्थान, पाली चैप्टर के हुक्मीचंद मेहता, सज्जनराज सेमलानी व हेमंत डागा ने दिवंगत के पुत्र रमेश सिंघवी से नेत्रदान के लिए संपर्क किया। स्वीकृति प्राप्त होते ही आई बैंक सचिव केवलचंद कवाड व राजीव कोठारी ने डाॅ. महेंद्रसिंह चौधरी, तकनीशियन दिनेश वर्मा, सहायक नारायणलाल मेघवाल व रतनलाल जावा के सहयोग से मृतक की आंखें दान में प्राप्त कर सामाजिक कार्यकर्ता दयालसिंह तंवर के सहयोग से जयपुर भिजवाई। जहां चार नेत्रहीन बंधुओं को कोर्णिया प्रत्यारोपित कर दृष्टि प्रदान की जाएगी।

खबरें और भी हैं...