पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • 2 साल से नहीं हुई टंकी की सफाई, विद्यार्थी दूषित पानी पीने को विवश, शिकायत की

2 साल से नहीं हुई टंकी की सफाई, विद्यार्थी दूषित पानी पीने को विवश, शिकायत की

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नगर की उत्कृष्ट स्कूल में पानी की टंकी की सालों से सफाई नहीं हुई है। इससे टंकी गंदी हो गई है। इसी गंदी टंकी का पानी विद्यार्थियों को पीना पड़ रहा है। विद्यार्थियों ने पानी में कीड़े होने की शिकायत की है। साथ ही टंकी की सफाई कराने की मांग की है। ताकि विद्यार्थियों को दूषित पानी पीने से बीमारी का खतरा न हो। स्कूल के विद्यार्थियों ने सुंदर,अनिल डावर, रानी राठौड़, प्रियंका गोदा, गरिमा जोशी, नैना हरवाल ने बताया टंकी की सालों से सफाई नहीं की गई है। इससे टंकी के पानी में कीड़े निकलते हैं। इससे कई विद्यार्थियों ने अपने घरों से पानी लाना शुरू कर दिया है।

उल्लेखनीय है कि स्कूल में 600 से अधिक विद्यार्थी पढ़ाई करते हैं। विद्यार्थियों ने बताया पिछले सत्र में पीएचई विभाग ने पीने के पानी की जांच की थी। इसमें विभाग ने जांच में बीमारी फैलाने वाले बेक्टीरिया होना पाया था। इसके बाद संस्था को ट्यूबवेल के पानी का उपयोग नहीं करने की हिदायत दी थी। इसके बाद कुछ विद्यार्थियों ने घरों से बोतल में पानी लाना शुरू कर दिया था।

विभाग ने जांच में बीमारी फैलाने वाले बेक्टीरिया होना पाया था

स्कूल परिसर में लगा ट्यूबवेल दिखाते विद्यार्थी।

और इधर, स्कूल में नियमित सफाई अौर बिजली की व्यवस्था की मांग

राजपुर |
नगर के बड़वानी रोड स्थित शासकीय बालक उत्कृष्ट स्कूल का एसडीएम वीरसिंह चौहान ने आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने स्कूल की कक्षाओं सहित अन्य व्यवस्थाएं देखी। इस दौरान कक्षाओं में सफाई नहीं होने व जाले लगने रहने पर नाराजगी जाहिर करते हुए नियमित सफाई कराने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान कक्षाओं में अंधेरा होने पर बिजली की जानकारी ली। इस पर स्कूल प्रबंधन ने बताया कि स्कूल भवन में बिजली की व्यवस्था नहीं है। इस पर एसडीएम ने जल्द ही स्कूल में बिजली की व्यवस्था कराने की बात कही। निरीक्षण के दौरान बीईओ नरेंद्र शर्मा सहित स्कूल स्टाफ व विद्यार्थी मौजूद थे।

स्कूल में निरीक्षण के दौरान विद्यार्थियों से चर्चा करते एसडीएम।

शौचालय से होते हुए जुड़ा है पाइप का कनेक्शन

विद्यार्थियों ने बताया कि ट्यूबवेल से पानी की टंकी तक जो पानी की पाइप लाइन डली हुई है। वो शौचालय से होकर निकली है। पाइप लीक होने की वजह से शौचालय का दूषित पानी ट्यूबवेल के पानी में मिल रहा है। इससे टंकी का पानी भी दूषित हो रहा है। साथ ही सालों से टंकी की सफाई भी नहीं कराई गई है। इससे पानी काफी दूषित हो गया है। इससे बीमारी का खतरा बना रहता है। इस संबंध में प्राचार्य से शिकायत भी की है।

कराई पानी की जांच, पीने योग्य है पानी

स्कूल के ट्यूबवेल के पानी की पीएचई विभाग से जांच कराई गई थी। विभाग द्वारा पानी पीने योग्य बताया गया है। यदि विद्यार्थियों को पानी दूषित होने की आशंका है तो दोबारा से पानी की जांच कराएंगे। वीके सुलिया, प्रभारी प्राचार्य उत्कृष्ट स्कूल पाटी।

खबरें और भी हैं...