पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • सवा लाख बिल्वपत्र से किया शिवलिंग का पूजन

सवा लाख बिल्वपत्र से किया शिवलिंग का पूजन

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नर्मदा किनारे ग्राम छोटा बड़दा के श्री अग्नेश्वर घाट पर पांच दिनी पार्थिव शिवलिंग निर्माण व पूजन का समापन शिव भक्ति व श्रद्धा के साथ सवा लाख बिल्व पत्र व 1100 कमल पुष्प अर्पण व अभिषेक के साथ किया गया।

पूजन के अंतिम दिन दीदी मां अखिलेश्वरी ने शिवजी के 108 नाम बताकर शिव नाम की महिमा को बताया। साध्वी दीदी ने शिव का अर्थ पापों का नाश करने वाला और श्वश का अर्थ दाता यानी देने वाला बताया। शिव का दूसरा अर्थ कल्याणकारी या शुभकारी होता है। यजुर्वेद में शिव को शांतिदाता बताया गया। इस तरह से यदि देखा जाए तो समस्त मानव जाति के लिए शिव कल्याण कारी, पापों को समाप्त करके भक्तों की समस्त मनोकामनाएं पूरी करने वाले हैं।

दीदी मां ने बताया कि यदि व्यक्ति अपनी समस्त गलत आदतों का सुधार करके शांति को धारण कर निःस्वार्थ भाव का स्वभाव बना ले तो वो ही सच्चा शिव भक्त है। भक्त उनकी कृपा को पा लेता है। भांग, धतूरे जैसी साधारण चीजों का भोग लगा लेने से भी उनकी हम सभी पर कृपा हो जाती है।

पार्थिव शिवलिंग निर्माण के समापन पर पूजन-अर्चन व अभिषेक के पांच मुख्य यजमान रंछौड़ पाटीदार, नरेंद्र यादव, अरुण यादव, संदीप पाटीदार व शिव यादव ने भगवान भोलेनाथ व पार्थिव शिवलिंग की पूजा अर्चना व अभिषेक किया। वहीं शाम 6 बजे पार्थिव शिवलिंग व मां नर्मदाजी की आरती कर शिवलिंग को नर्मदा में प्रवाहित किया गया। इसके अलावा साध्वी अखिलेश्वरी दीदी के सानिध्य में बड़वानी के श्री गौड़ मालवीय ब्राह्मण नवयुवक व महिला मंडल व रामकुलेश्वर डोला उत्सव समिति के तत्वावधान 8 से 10 अगस्त तक तीन दिनी पार्थिव शिवलिंग निर्माण, पूजन व अभिषेक का आयोजन सांवरिया मंदिर रानीपुरा में किया जाएगा। इसमें प्रतिदिन सुबह 11 से पार्थिव शिवलिंग निर्माण व दोपहर 3 से 6 बजे तक पूजन व अभिषेक किया जाएगा।

पांच दिनी आयोजन के आखिरी दिन साध्वी दीदी ने बताई शिव नाम की महिमा, अभिषेक किया

पार्थिव शिवलिंग निर्माण करते श्रद्धालुजन।

खबरें और भी हैं...