पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • कांग्रेसी कौंसलर व उसके भाई पर धार्मिक आस्था को ठेस पहुंचाने का केस दर्ज

कांग्रेसी कौंसलर व उसके भाई पर धार्मिक आस्था को ठेस पहुंचाने का केस दर्ज

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
थाना त्रिपड़ी के अधीन पढ़ते आनंदनगर बी इलाके में 1 मार्च रात करीब 9 बजे कांग्रेसी काैंसलर का भाई साइकिल मैकेनिक की दुकान के बाहर खड़ा होकर बीड़ी पी रहा था। जिसे वहां मौजूद सिख नौजवान ने बीड़ी पीने का एतराज जताते हुए उसे वहां से जाने के लिए बोला जिस से गुस्साए कांग्रेसी कौंसलर व उसके के भाई ने अपने साथियों सहित वहां दुकान पर काम करने वाले सिख नौजवान हैप्पी नामक नौजवान से झगड़ा करना शुरू कर दिया जिसे देख पड़ोसी दुकानदार भी वहां इक्ठ्ठे हो उसका विरोध जताने लगे तो बहस बाजी मारपीट में बदल गई। कौंसलर के भाई नरिंदर सिंह अस्पताल में दाखिल हो गया और सिख नौजवान इकट्ठे होकर थाना त्रिपुरी में शिकायत दर्ज करवाने चले गए।

कांग्रेसी काउंसलर के भाई की शिकायत पर अगले दिन पुलिस ने सिंह फास्ट फूड नामक दुकान के मालिक रजिंदर सिंह कोहली उसके बेटे अनमोल ,साइकिल मैकेनिक की दुकान पर नौकर हैप्पी और उसके साथ लगती साई इंटरप्राइजेज दुकान के मालिक संजय व उसकी माता के खिलाफ मारपीट का केस दर्ज किया था। जिसका विरोध करने के लिए शुक्रवार को दमदमी टकसाल जत्था राजपुरा के इलावा अमृतसर, लुधियाना, जालंधर से सिंह नाैजवान पटियाला पहुंचे और गुरुद्वारा श्री दुखनिवारण साहिब से रोष मार्च निकालते हुए थाने के बाहर जाकर 1 घंटर धरना प्रदर्शन किया और कौंसलर राजिंदर कुमार व उसके भाई नरिंदर कुमार पर धार्मिक आस्था पर ठेस पहुंचाने की शिकायत पर केस दर्ज करवाने के बाद धरना प्रदर्शन खत्म किया।

प्रदर्शन करने पहुंचे बृजिंदर सिंह परवाना ने बताया कि सिख नौजवान राजिंदर सिंह कोहली से झगड़े दौरान पगड़ी उतार कर केसाें से पकड़ कर मारपीट की गई थी। जिसकी शिकायत उन्होंने पुलिस को दी थी। पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की जिसके लिए मैंने काैंसलर व पुलिस प्रशासन से अपील की थी कि बनती कार्रवाई की जाए। लेकिन नहीं सुनवाई हुई जिसके बाद शुक्रवार को मजबूरन धरना प्रदर्शन कर थाने का घेराव करना पड़ा और फिर जाकर पुलिस ने केस दर्ज किया।

राजिंदर सिंह कोहली ने बताया कि आरोपी काैंसलर का भाई वहां आकर बीड़ी पीने लगा जिससे उसने एतराज जताया था। बस एतराज जताने के बाद आरोपी ने उससे मारपीट की जिससे हम लोग छुड़वाने गए तो हमारे साथ भी मारपीट करने लगा और शिकायत दे हमारे ऊपर पर्चा दर्ज करवा दिया। कांग्रेसी कौंसलर राजिंदर कुमार के बड़े भाई सतीश कुमार ने बताया कि बीड़ी पीने का मामला और पगड़ी उछालने का मामला बेफिजूल से बनाया गया है। थाना त्रिपडी इंचार्ज राजेश मल्होत्रा ने बताया कि मामला पहले ही दर्ज कर लिया गया था। इसमें धारा 295 ए के तहत राजिंदर कुमार व उसका भाई नरिंदर कुमार के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

खबरें और भी हैं...