पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • इमरजेंसी में 13 से 200 बेड और आई बैंक की सुविधा

इमरजेंसी में 13 से 200 बेड और आई बैंक की सुविधा

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पटना|पीएमसीएच की सेंट्रल इमरजेंसी में बेडों की संख्या 100 से बढ़कर 200 हो गई है। आईसीयू की संख्या भी बढ़ गई है। 13 अगस्त को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इसका उद‌्घाटन करेंगे। उसी दिन से आई बैंक की सुविधा भी बहाल हो जाएगी। इसके अलावा मुख्यमंत्री किडनी ट्रांसप्लांट यूनिट का शिलान्यास भी करेंगे। कार्यक्रम में उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय और स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार भी मौजूद रहेंगे। राज्य में सरकारी क्षेत्र में किडनी ट्रांसप्लांट व आई बैंक की सुविधा सिर्फ आईजीआईएमएस में है। पीएमसीएच में आई बैंक की व्यवस्था होने पर कार्निया ट्रांसप्लांट भी होगा। आईजीआईएमएस में कोर्निया ट्रांसप्लांट कराने वाले 100 से अधिक मरीजों की प्रतीक्षा सूची है। पीएमसीएच में इसकी व्यवस्था होने से आईजीआईएमएस पर दबाव कम होगा। अधीक्षक डॉ. राजीव रंजन प्रसाद ने बताया कि इन सुविधाओं की तैयारी लगभग पूरी हो गई है। आईसीयू का निर्माण आधुनिक तकनीक से किया गया है। पीएमसीएच की सेंट्रल इमरजेंसी में मरीज की तुलना में बेड कम होने से जमीन पर रखकर इलाज करना पड़ता था।

सितंबर से मुफ्त मिलेंगी मधुमेह, कैंसर और थायराइड की दवाएं

पटना|मधुमेह, कैंसर और थायराइड की दवा सितंबर से सरकारी अस्पतालों में मुफ्त मिलेगी। इन्हें पहली बार आवश्यक दवाओं की सूची में शामिल किया गया है। तीनों बीमारियों की दवाएं लंबे समय तक चलती हैं। गरीब मरीजों को इससे परेशानी होती है। सबसे अधिक मरीज मधुमेह और थायराइड के हैं। न्यू गार्डिनर रोड अस्पताल के निदेशक डॉ. मनोज कुमार के मुताबिक, अस्पतालों में दवा सप्लाई करने की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। सितंबर से ये दवाएं अस्पताल में उपलब्ध हो जाएंगी। यदि मधुमेह और थायराइड की दवा इस दौरान सप्लाई नहीं होगी तो अस्पताल प्रशासन लोकल परचेज करके मरीजों को उपलब्ध कराएगा। उन्होंने बताया कि हीमोफीलिया की दवा फैक्टर-9 भी स्टॉक में आ गई है।

खबरें और भी हैं...