पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गेट के लिए आवेदन एक सितंबर से

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग (गेट-2019) का नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है। आवेदन प्रक्रिया एक सितंबर से शुरू होगी। इस बार गेट का आयोजन इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (आईआईटी) मद्रास द्वारा किया जा रहा है। गेट-2019 के बारे में सूचना वेबसाइट http://gate.iitm.ac.in पर अपलोड कर दी गई है। गेट का आयोजन विभिन्न आईआईटीज और भारतीय विज्ञान संस्थान (आईआईएससी) में इंजीनियरिंग, टेक्नोलॉजी, आर्किटेक्चर व अन्य ब्रांचों में मास्टर और डॉक्टोरल प्रोग्राम में नामांकन के लिए होता है। कई पब्लिक सेक्टर की कंपनियां बीएचईएल, गेल, एचएएल, आईओसीएल, ओएनजीसी आदि भी अपनी भर्ती प्रक्रिया में गेट के स्कोर का इस्तेमाल करती हैं।

गेट-2019 में इस बार बदलाव भी किए गए हैं। पहले 23 विषय थे, इस बार 24 विषय हैं। नया विषय सांख्यिकी है। गेट का स्कोर अगले तीन वर्षों तक वैध रहेगा। कोई आयु सीमा नहीं है। इसमें वैसे उम्मीदवार शामिल हो सकते हैं, जिन्होंने इंजीनियरिंग, टेक्नोलॉजी में बैचलर की डिग्री ली है। या फिर प्रोग्राम के फाइनल ईयर में हैं। विज्ञान के किसी उपयुक्त विषय में मास्टर की डिग्री पूरी करने वाले भी परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। सभी पेपर्स की अवधि तीन घंटे की होगी, इसमें कुल 100 नंबर के 65 सवाल पूछे जाएंगे। परीक्षा ऑनलाइन होगी, इसलिए समय खत्म होने पर कंप्यूटर की स्क्रीन अपने आप ऑफ हो जाएगी। गेट 200 शहरों में लिया जाएगा। बिहार में आरा, बिहारशरीफ, गया, मुजफ्फरपुर, पटना और पूर्णिया में सेंटर बनाए जाएंगे। इसके अलावा विदेशों में अदिस अबाबा (इथोपिया), कोलंबो, ढाका, दुबई, काठमांडू तथा सिंगापुर में परीक्षा होगी।

ये है शेड्यूल

ऑनलाइन आवेदन : 1 सितंबर

ऑनलाइन आवेदन जमा करने की अंतिम तारीख : 21 सितंबर

विलंब शुल्क के साथ आवेदन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि : 01 अक्टूबर

परीक्षा के शहर बदलने के लिए आग्रह की अंतिम तिथि : 16 नवंबर

एडमिट कार्ड : 4 जनवरी, 2019

गेट परीक्षा का आयोजन : 2, 3, 9 और 10 फरवरी 2019. समय : सुबह नौ से दिन में 12 बजे, दोपहर दो से शाम 5 बजे (संभावित)

रिजल्ट का प्रकाशन : 16 मार्च 2019

इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए सेकंड काउंसिलिंग शुरू

पटना| राज्य के इंजीनियरिंग कॉलेजों में बीटेक में दाखिले के लिए सेकंड काउंसिलिंग मंगलवार से शुरू हो गई है। 9 अगस्त तक रजिस्ट्रेशन व च्वाइस फिलिंग होगी। बीसीईसीई के मुताबिक 19 से 25 जुलाई के बीच पहली काउंसिलिंग के लिए जिन छात्रों ने अबतक रजिस्ट्रेशन व च्वाइस फिलिंग नहीं की है, वे 9 अगस्त तक च्वाइस फिलिंग कर सकते हैं। जो अभ्यर्थी रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं लेकिन पाठ्यक्रम का विकल्प कम भरा है वे भी फिर से पाठ्यक्रम व संस्थान के विकल्प में परिवर्तन करा सकते हैं। जिन छात्रों ने पहले चरण की काउंसिलिंग में इकॉनामिकली बैकवर्ड कैटेगरी में हां भर दिया है, वे भी उसे सुधार सकते हैं।

बीएड में काउंसिलिंग की प्रक्रिया पूरी

पटना|राज्य
के बीएड कॉलेजों में नामांकन के लिए काउंसिलिंग मंगलवार को पूरी हो गई। बीएड सीईटी के नोडल पदाधिकारी डॉ. एसपी सिन्हा ने बताया कि काउंसिलिंग प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। 8 अगस्त को उन्हीं अभ्यर्थियों की काउंसिलिंग होगी, जो छह और सात अगस्त को उसमें शामिल नहीं हो पाए। वहीं काउंसिलिंग के दौरान ही कॉलेजों के लिए विकल्प भरने की प्रक्रिया भी मंगलवार रात 12 बजे तक के लिए ओपन रही। शाम पांच बजे तक लगभग 28 हजार अभ्यर्थियों ने विकल्प दिए।

जरूरी तारीख

रजिस्ट्रेशन व च्वाइस फिलिंग : 7 से 9 अगस्त

सीट एलॉटमेंट : 11 अगस्त

रिपोर्टिंग सेंटर पर रिपोर्टिंग : 12 से 14 अगस्त तक

खबरें और भी हैं...